Skip to content
20220830_081757
Advertisement

कड़ी सुरक्षा के बीच दुमका की बेटी अंकिता का हुआ अंतिम संस्कार, परिजनों को CM Hemant Soren ने उपलब्ध कराई 10 लाख की सहायता राशि

zabazshoaib

Dumka: झारखंड के दुमका की बेटी अंकिता आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई। शाहरुख नामक एक मनचले ने एकतरफा प्यार में असफल होने पर 12वीं छात्रा अंकिता करीब 17 साल की नाबालिग को खिड़की से पेट्रोल डाल कर जिंदा जला दिया था जिसके बाद इलाज के दौरान अंकिता की मौत हो गई. इस हादसे के ठीक बाद आरोपी शाहरुख को मृतका का बयान लेकर (23 अगस्त, 2022) को शाहरुख़ को गिरफ्तार कर लिया गया था।

वहीं कड़ी सुरक्षा के बीच अंकिता सिंह की अंतिम यात्रा निकाली गई. जिसमें परिजनों और परिचितों की मौजूदगी में अंकिता का अंतिम संस्कार हुआ.17 वर्षीय मृतका के दादा ने उसे मुखाग्नि दी।

दिवंगत अंकिता के परिजनों को सीएम हेमंत सोरेन ने उपलब्ध कराई 10 लाख की सहायता राशि

कड़ी सुरक्षा के बीच दुमका की बेटी अंकिता का हुआ अंतिम संस्कार, परिजनों को CM Hemant Soren ने उपलब्ध कराई 10 लाख की सहायता राशि 1
दुमका उपायुक्त ने अंकिता के परिजनों को 10 लाख रुपये का चेक दिया।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका की बेटी अंकिता की मौत पर गहरा दुःख एवं शोक व्यक्त किया. उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कहा कि घटना को अंजाम देने वाले को कड़ी सजा मिलेगी. उन्होंने पुलिस महानिदेशक को उक्त मामले में एडीजी रैंक के अधिकारी द्वारा जांच की प्रगति पर शीघ्र रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है. साथ ही उन्होंने अंकिता के परिजनों को दस लाख की सहायता राशि देने की घोषणा की. सीएम ने इस घटना को फास्ट ट्रैक से निष्पादन करने का निर्देश दिया है. सीएम की इस घोषणा के बाद दुमका उपायुक्त ने अंकिता के परिजनों को 10 लाख रुपये का चेक दे भी दिया।

Leave a Reply