Skip to content
FB_IMG_1661600645916
Advertisement

Jharkhand Politics:मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने को लेकर, पारसनाथ की पहाड़ियों पर भाजपाइयों करेंगे साधना!

zabazshoaib

रांची। जैन तीर्थकरो की निर्वान भूमि पारसनाथ में झारखंड प्रदेश भारतीय जनता पार्टी का तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर आयोजन आज शनिवार को शुरू हो गया है। पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री और प्रदेश प्रभारी दिलीप कैथिया इसका आज उद्घाटन करेंगे। जिला गिरिडीह के मधुबन में पारसनाथ का यह क्षेत्र जैन धर्म के 23वें तीर्थंकर पारसनाथ समेत 20 तीर्थकर कि निर्वाण भूमि रही है। वैराग्य की तलाश में राजकुल के युवा जैन तीर्थकर बने, तो निवर्ण के लिए उन्हें पारसनाथ के शिखर तल में आना पड़ेगा। इसी पारसनाथ के पायताने में बैठकर भारतीय जनता पार्टी के नेता 5 निष्ठा का पाठ पड़ेंगे। लगभग 3 वर्ष पूर्व सत्ता से दूर हुई भाजपा फिर से सत्ता पाने के लिए संकल्प साधना भी करेगी। वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए इस प्रशिक्षण शिविर में कार्यकर्ताओं को जो पाठ पढ़ाया जाएगा। वही अगले 2 साल तक पार्टी की रीति रिवाज नीति के रूप में भी दिखेगा।

बता दें कि झारखंड बिहार के क्षेत्रीय संगठन महामंत्री नागेंद्र त्रिपाठी और प्रदेश के नवनियुक्त संगठन महामंत्री कर्मवीर सिंह के लिए यह प्रदेश का पहला प्रशिक्षण शिविर है। आर एस एस की पृष्ठभूमि से आए दोनों प्रचारक शिविर में तीन भूतपूर्व मुख्यमंत्री समेत प्रदेश के सभी बड़े नेताओं को राजनीतिक मजबूत करना और कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देकर अपने अपने क्षेत्रों में भेज कर लोगों से जुड़ने का कहा गया इस बीच सभी जिला के जिला अध्यक्षों और प्रदेश अध्यक्ष हूं ने कार्यकर्ताओं को शिविर में बेहतर प्रशिक्षण देकर उसे आम लोगों से जुड़ने के लिए कहा गया और शपथ दिलाया गया।इस प्रशिक्षण शिविर के लिए भाजपा की ओर से एक पाठ्यक्रम बनाया गया है जिसके तहत कार्यकर्ताओं को पाठ्यक्रम पढ़ाया जाएगा। इसके बाद इसकी परीक्षा भी दी जाएगी। 300 भाजपा कार्यकर्ताओं को परीक्षा देना पड़ सकता है। परीक्षा में उत्तीर्ण किए हुए कार्यकर्ता ही वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए बेहतर कार्यकर्ता माना जाएगा। यह पूरी तैयारी भाजपा प्रदेश के द्वारा लोकसभा चुनाव के जीतने के लिए बना रही है ताकि पुनः प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी को बना सके।

Leave a Reply