Skip to content
human-chain

बेंगलुरु हिंसा में मुस्लिम युवाओ ने मंदिर को बचाने के लिए बनाई मानव श्रृंखला

News Desk

बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट कि गई थी. जिसके बाद उसकी गिरफ़्तारी कि मांग करने के दौरान हिंसा भड़क गई. जिसमे तीन लोगो कि जान भी चली गई जबकि 100 से अधिक पुलिस वाले जख्मी भी हुए है.

Advertisement

कर्नाटक के पूर्वी इलाके में मंगलवार कि रात हिंसा भड़क गई. जानकारी के अनुसार कांग्रेस विधायक आर अखंडा श्रीनिवास मूर्ति के एक रिश्तेदार द्वारा कथित रूप से एक अपमानजनक फेसबुक पोस्ट कि गई थी. जिसे देख लोगो में काफी गुस्सा था और इसी वजह से हिंसा हुई. कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार की पहचान पी नवीन के रूप में की गई है. पी नवीन पर आरोप है कि उन्होंने पैगंबर मुहम्मद के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की थी।

Also Read: फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर भड़की हिंसा, 110 लोग गिरफ्तार

पुल्केशिनगर में कई वीडियो में हिंसक दृश्यों को दिखाया गया है, जिसमें वाहनों की तोड़-फोड़, पथराव और पुलिस स्टेशन परिसर के अंदर संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप है। गुस्साई भीड़ के एक समूह ने इलाके में हिंसा का नेतृत्व किया, जिसके कारण स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए KSRP, CAR और अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया।

मुस्लिम युवाओं ने हिंसा कि चपेट से मंदिर को बचाया:

बेंगलुरु के पूर्वी हिस्से में हिंसा हुई. जहाँ हिंसा के दौरान एक अनोखी तस्वीर सामने आई है. एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमे कुछ मुस्लिम युवा दिख रहे है. वीडियो में एक हिन्दू मंदिर भी दिख रहा है और सभी युवा मंदिर के बाहर क़तार में खड़े दिख रहे है. दरअसल, वो ऐसा इसलिए कर रहे थे ताकि हिंसा से मंदिर को बचाया जा सके और मंदिर को कोई नुकसान न हो. वीडियो में एक युवक यह कहते हुए सुनाई देता है “यह चीज़ हमारी अमानत है और हम इसे कुछ होने नहीं देंगे।”

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches