Skip to content

मौलाना साहेब उद्दीन की मौत: झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष पहुंचे रघुनियाडीह, कहा मामले की होगी उच्च स्तरीय जांच

zabazshoaib

Koderma: जयनगर रघुनियाडीह में मौलाना साहेब उद्दीन की मौत के मामले में झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ने संज्ञान लेते हुए बुधवार को रघुनियाडीह पहुंचे। उन्होंने पीड़ित परिवार से मिलकर उन्हें सांत्वना दी और मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि मामले में सच्चाई क्या है इसकी तह तक जाने के लिए अल्पसंख्यक आयोग अलग से टीम गठित कर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाएगी। उन्होंने कहा कि अगर इस मामले की सच्चाई में लीपा पोती की गई तो शामिल सभी अधिकारी बख्शे नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस संबंध में हजारीबाग एसपी, डीसी और वहां के थाना प्रभारी से भी मुलाकात कर बात रखी जाएगी।

इस दौरान समाजसेवी अरमान खान और माले नेता इब्राहिम अंसारी ने भी कहा कि अल्पसंख्यक आयोग भी राज्य सरकार की टीम है इसलिए वे इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपया मुआवजा तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाने का काम करे। इसके पूर्व आपकी विकास पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष गुलाम मुस्तफा ने पीड़ित परिवार को तत्काल 51 हजार रुपए सहयोग राशि दी। इस मौके पर झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य मौलाना बरकत अली, झामुमो अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला अध्यक्ष नौशाद आलम, झामुमो युवा गिरिडीह जिला उपाध्यक्ष बैरिस्टर फरदिन इम्तियाज़ अहमद, जिला उपाध्यक्ष यासीन खान, बीस सूत्री सदस्य मो जावेद, अफजल मियाँ, युवा नेता अरमान खान, राजद नेता सरफराज खान, मुखिया सकिल अंसारी, मो कुद्दूस, इस्लाम अंसारी, मो शमीम रहमानी, मुखिया किशोर भगत, मुखिया कौशर खान, नौसाद अंसारी, बरकट्ठा बीस सूत्री उपाध्यक्ष कुद्दूस अंसारी समेत कई लोग मौजूद थे।

मौलाना साहेब उद्दीन की मौत: झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष पहुंचे रघुनियाडीह, कहा मामले की होगी उच्च स्तरीय जांच 1

Image: अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष हिदायतुल्ला खान ने मृतक मौलाना की पत्नी से की मुलाकात

पुलिस ने सड़क हादसा बताया तो परिजनों ने मोबलिचिंग का मामला

जयनगर थाना क्षेत्र के रघुनियाडीह निवासी शहाबुद्दीन अंसारी की मौत छुतहरि कटिया में 30 जून की सुबह हो गई थी। इस मामले को लेकर बरकट्ठा पुलिस ने इसकी मौत सड़क हादसे में होना बताया था। परंतु परिजनों ने इसे मोब्लीचिंग का मामला बताकर बरकट्ठा थाना में एक मामला दर्ज कराया है। दर्ज मामले में मृतक की पत्नी असगरी खातून ने कहा है कि वे बरकट्ठा थाना क्षेत्र के बसरामो स्थित मस्जिद में इमाम का कार्य करते थे और 30 जून की अगले सुबह वे मोटरसाइकिल से अपने घर लौट रहे थे। तभी उनके मोटरसाइकिल से एक महिला चपेट में आ गई और वह चोटिल हो गई। इसके बाद वहां चोटिल महिला तथा ग्रामीणों ने पहुंचकर शहाबुद्दीन अंसारी को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया था।