Skip to content
FB_IMG_1661409197631
Advertisement

JHARKHAND NEWS : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विभागों के प्रधान सचिव/ सचिव और प्रमंडलीय आयुक्त की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्तों के साथ उच्च स्तरीय बैठक की

Bharti Warish

JHARKHAND NEWS : राज्य भर में विभिन्न विभागों की कई विकास और कल्याणकारी योजनाएं चल रही है। जिलों में इन सभी योजनाओं को धरातल पर उतारने में उपायुक्तों का अहम रोल है। लोगों को इन योजनाओं का लाभ कैसे मिले, इसमें आपको पूरी जिम्मेदारी के साथ कार्य करना है ।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज विभिन्न विभागों के प्रधान सचिव/ सचिव की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्तों के साथ उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में यह बातें कही। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास को गति देने के साथ सरकार की योजनाओं को उन लोगों तक पहुंचाएं जिनके लिए इन योजनाओं को बनाया गया है।

सुखाड़ से किसानों मजदूरों को राहत देने की दिशा में पूरी तल्लीनता के साथ कार्य करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियां सुखाड़ की ओर इशारा कर रही है। ऐसे में किसानों -मजदूरों के साथ ग्रामीणों का रोजगार के लिए पलायन बढ़ने की संभावना है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार कई नई योजनाएं शुरू कर रही हैं। इन योजनाओं का ग्रामीणों को कैसे ज्यादा से ज्यादा लाभ मिले, इसकी रूपरेखा आप को तैयार करना है। मजदूरों को अपने ही घर में रोजगार देने की योजनाओं को गति दें । इसके अलावा सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करते हुए सुखाड़ को लेकर बनाई गई योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें ।

प्रधान सचिव / सचिव अपने विभागों योजनाओं को लेकर सभी उपायुक्तों के साथ नियमित बैठक करेंगे

मुख्यमंत्री ने सभी विभागों के प्रधान सचिव/ सचिव को अपने विभागों की योजनाओं को लेकर सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ नियमित बैठक करने के निर्देश दिए ।यह बैठक ऑफलाइन या ऑनलाइन किसी भी माध्यम में हो सकती हैं । विभागीय सचिव इस दौरान विभिन्न योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट की जानकारी लेंगे ताकि योजनाओं की जमीनी हकीकत का पता चल सके।

कुछ क्षेत्रों में अच्छी उपलब्धि तो कुछ में गति देने की जरूरत

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ क्षेत्रों में विभिन्न जिलों ने अच्छी उपलब्धि हासिल की है तो इसमें कई जिले पीछे भी हैं । ऐसे में जहां विकास की गति धीमी है, उसे तेज करने के लिए सभी ठोस कदम उठाए जाने चाहिये।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उपायुक्तों के सामने कई चुनौतियां होती है । उन्हें समय और परिस्थितियों के अनुकूल तत्काल निर्णय भी लेंगे होते हैं । ऐसे में आप अपने निर्णय को इस तरह लें कि उसका लाभ ज्यादा से ज्यादा राज्य वासियों को हो सके।

मुख्यमंत्री ने ये बातें भी कही

◆ सरकार और ग्रामीणों के बीच संवाद का मॉडल बनाएं।

◆ सरकार की योजनाओं को लेकर सभी जिलों में वर्कशॉप का आयोजन

Leave a Reply