Skip to content
Advertisement

Jharkhand News: दस लाख के इनामी भाकपा माओवादी जोनल कमांडर एसपी के समक्ष किया आत्मसमर्पण

Jharkhand News Latehar

: दस लाख के इनामी भाकपा माओवादी जोनल कमांडर लालदीप गंझू उर्फ कल्टू उर्फ कार्तिक गंझू उर्फ मोजिंदर ने शनिवार को एसपी कार्यालय में पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया.

लालदीप गंझू के खिलाफ झारखंड के लातेहार जिले के गारू, बालूमाथ के अलावा बिहार के औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाने में कुल आठ मामले दर्ज हैं. नक्सली संगठन भाकपा माओवादी से ये दो दशक से जुड़ा था. कई बड़ी घटनाओं में ये शामिल रहा था. ये जानकारी पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन ने शनिवार को दी.

20 साल से भाकपा माओवादी से जुड़ा था लालदीप

लातेहार के एसपी ने जानकारी दी कि दस लाख का इनामी भाकपा माओवादी जोनल कमांडर लालदीप गंझू 2004 में नक्सली संगठन भाकपा माओवादी से जुड़ा था. 20 वर्षों तक संगठन में पूरी तरह सक्रिय रहा. उन्होंने बताया कि लातेहार जिले के विभिन्न क्षेत्रों में पुलिस द्वारा नक्सल विरोधी अभियान चलाया गया, जिससे माओवादी संगठन कमजोर हुआ. पुलिस की दबिश के बाद कई शीर्ष कमांडर गिरफ्तार कर लिए गए और कई ने आत्मसमर्पण (सरेंडर) कर दिया है.

झारखंड के अलावा बिहार में भी दर्ज हैं केस

लातेहार के एसपी ने कहा कि लालदीप गंझू ने झारखंड सरकार की आत्म समर्पण नीति नई दिशा से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण कर दिया है. बूढ़ा पहाड़ पर ऑपरेशन ऑक्टोप्स व डबल बुल चलाया गया था. इससे माओवादी काफी कमजोर हो गये हैं. लातेहार जिले में जितनी बड़ी घटनाएं हुई हैं, उन सभी घटनाओं में ये मुख्य रूप से शामिल रहा है. इसके अलावा बिहार के औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र में कई बड़ी घटनाओं में लालदीप शामिल रहा है. मदनपुर थाने में लालदीप के खिलाफ आठ मामले दर्ज हैं.

Advertisement
Jharkhand News: दस लाख के इनामी भाकपा माओवादी जोनल कमांडर एसपी के समक्ष किया आत्मसमर्पण 1