Skip to content

JHARKHAND NEWS : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू कल आ रही है झारखण्ड , जाने पूरी खबर

Bharti Warish

JHARKHAND NEWS : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के कार्यक्रम में फेरबदल के बारे में खूंटी डीसी शशि रंजन ने बताया कि राष्ट्रपति का खूंटी का कार्यक्रम रद्द हो गया है। अब वे भगवान बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से सीधे उलिहातू पहुंचेंगी।

उलिहातू में भगवान बिरसा मुंडा को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगी। पूजा-पाठ करेंगी। इसके बाद भगवान बिरसा के वंशजों और ग्रामीणों से बातचीत करेंगी। उलिहातू में भी कोई सभा नहीं होगी।

राष्ट्रपति के आगमन को लेकर आईजी पंकज कंबोज, डीआईजी अनिश गुप्ता, कोल्हान के डीआईजी अजय लिंडा, एसपी अश्विनी सिन्हा समेत एसपी और डीएसपी स्तर के कई अधिकारी खूंटी और उलिहातू पहुंचे।

सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। खूंटी और उलिहातू में रविवार को चॉपर से निगरानी की गई।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के कार्यक्रम को लेकर नया शेड्यूल जारी कर दिया गया है। राष्ट्रपति 15 नवंबर को सुबह 8:20 बजे रांची एयरपोर्ट पहुंचेंगी। 10 मिनट बाद यहां से चॉपर के जरिए शहीद बिरसा मुंडा के जन्मस्थान उलिहातू रवाना होंगी।

8:50 बजे उलिहातू गांव पहुंचेंगी और भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली में श्रद्धासुमन अर्पित करेंगी। राष्ट्रपति उलिहातू में आधा घंटा रुकेंगी। ग्रामीणों से मिलेंगी और बिरसा मुंडा के वंशजों से वार्तालाप करेंगी।

9:40 बजे द्रौपदी मुर्मू रांची एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगी। 10:15 बजे राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू रांची एयरपोर्ट से मध्य प्रदेश के जबलपुर के लिए रवाना हो जाएंगी।

एसपी ने बताया कि कई आईपीएस अधिकारी समेत झारखंड जगुआर, सैट, जिला पुलिस, सीआरपीएफ और कोबरा बटालियन के जवानों की पोस्टिंग कर दी गई है। जेल से बाहर आए नक्सलियों और अपराधियों की निगरानी की जा रही है।

बाड़ीनिजकेल, कुईल सेल्दा, चाड़ाडीह, मारंगबुरू इलाके में एंटी नक्सल ऑपरेशन चल रहा है। जंगलों को फोर्स ने अपने अधिपत्य में ले लिया है। बता दें कि कभी यह पूरा इलाका घोर नक्सल प्रभावित था।

दूसरी ओर, उलीहातू जाने वाली सभी गाड़ियों की जांच की जा रही है। उलिहातू जाने के रास्ते में पड़ने वाले सभी घरों की जांच भी पुलिस ने कर ली है। सड़क के किनारे झाड़ियों की कटाई-छंटाई का काम पूरा हो गया है।

इधर, डीसी शशि रंजन पूरे दिन तैयारी में जुटे रहे। सारी तैयारियां युद्ध स्तर पर चल रही थी। बिरसा स्टेडियम में पंडाल बनाने में सौ से ज्यादा मजदूर जुटे थे। रविवार शाम में बिरसा कॉलेज के बहुउद्देशीय भवन में डीसी समेत अन्य अधिकारियों ने पुलिस पदाधिकारियों और कर्मियों के बारे में विस्तार से बताया गया।

डीसी ने बताया कि ब्रीफिंग के दौरान बताया गया कि कौन से पास कहां तक जाने के हैं।

Leave a Reply