Skip to content
Advertisement

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने किया कार्यशाला का उद्घाटन, कहा- हर घर नल का जल उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता

Arti Agarwal
Advertisement
Advertisement
मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने किया कार्यशाला का उद्घाटन, कहा- हर घर नल का जल उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता 1

रांची: झारखंड सरकार में पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा है कि जल जीवन मिशन के तहत हर घर में नल से शुद्ध जल देना सरकार की प्राथमिकता है. इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए संकल्पित होकर कार्य करना होगा. उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारी, क्षेत्रीय अभियंता और संवेदक संकल्प लेकर इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कार्य करें और इस दिशा में आ रही समस्याओं और अड़चनों को दूर करने का प्रयास करें. वह बुधवार को जल जीवन मिशन के तहत “हर घर नल से जल’’ उपलब्ध कराने हेतु होटल बीएनआर चाणक्य में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यशाला में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि इस तरह की कार्यशाला के आयोजन से हमें इस दिशा में काफी मदद मिलेगी और पूरी उम्मीद है कि हम इस लक्ष्य को प्राप्त कर पाएंगे. इस अवसर पर उन्होंने उत्कृष्ट कार्य करनेवाले पदाधिकारियों एवं संवेदकों को सम्मानित भी किया.

“हर घर नल से जल” पहुंचाने की दिशा में तेजी से करें कार्य:

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि हमने अब तक योजना का 21% लक्ष्य प्राप्त किया है। लेकिन, हमने बहुत कम समय में और विषम परिस्थितियों में इस लक्ष्य को प्राप्त किया है। कोविड-19 संक्रमण के दौरान सभी कार्य बाधित हो गए थे और विकास कार्य रुक गया था। फिर भी हमने अपने अधिकारियों से कहा कि सभी तैयारियां पूरी कर लें और जैसे ही कोविड-19 का संक्रमण कम होता है इस योजना को धरातल पर उतारने में लग जाएं। तेजी से निविदा प्रक्रिया शुरू करें और योजनाओं को पूर्ण कराएं। इसका ही नतीजा है कि हमने अब तक इस लक्ष्य को प्राप्त किया है, वरना हम इससे भी पीछे होते। इस कार्य के लिए विभाग के सभी अधिकारी, अभियंता और संवेदक बधाई के पात्र हैं, लेकिन अब हमें फिर से संकल्पित होकर जिम्मेदारी के साथ ससमय इस लक्ष्य को प्राप्त करना है और हर घर नल से जल पहुंचाने की दिशा में तेजी के साथ काम करना है.उन्होंने कहा कि राज्य की जनता को नल से शुद्ध जल शुद्ध निरंतर मिले, इस दिशा में हम सभी अपनी जिम्मेदारियों को निभाते हुए संकल्पित होकर कार्य करेंगे तो निश्चित ही लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे.

संवेदक आवंटित कार्य को गुणवत्तापूर्वक ससमय पूर्ण करायें:

मिथिलेश ठाकुर ने संवेदकों से कहा कि जो भी कार्य उन्हें आवंटित किया जाता है उसे ससमय पूर्ण कराएं और यदि समय से पहले और गुणवत्तापूर्ण कार्य करते हैं, तो उन्हें विभाग की ओर से प्रोत्साहित भी किया जाएगा और कार्य आवंटन में उन्हें प्राथमिकता भी दी जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि संवेदक वर्क आर्डर मिलने के साथ ही योजनाओं के पूर्ण करने में आ रही बाधाओं को दूर करने का प्रयास करें। संबंधित विभाग से एनओसी प्राप्त करें ताकि योजनाओं को पूर्ण करने में विलंब ना हो। अक्सर ऐसा देखा जाता है कि योजनाओं के पूर्ण करने में क्षेत्र में कई बाधाएं उत्पन्न हो जाती हैं और उस समय संबंधित विभाग से एनओसी प्राप्त करने की दिशा में कार्य किया जाता है जिससे कार्य में विलंब होता है। इसलिए संवेदक वर्क आर्डर मिलने के साथ ही क्षेत्र की समस्याओं का सर्वे कराएं और संबंधित विभाग से एनओसी प्राप्त करें।

ग्रामीण क्षेत्र में नल से जल उपलब्ध कराने में ग्रामीणों का लें सहयोग:

आगे मंत्री ने ग्रामीण क्षेत्र में नल से पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा में जोर देते हुए कहा कि ग्रामीणों सहयोग लेते हुए उन्हें शुद्ध जल उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करें। यूनिसेफ के माध्यम से ग्राम में ग्राम जल स्वच्छता कार्यशाला का आयोजन करें।