Skip to content

झारखंड में ऑपरेशन लोटस की प्लानिंग हुई फेल, BJP पर लगा साजिश का आरोप

Arti Agarwal

Jharkhand Congress: झारखंड की राजनीति इन दिनों काफ़ी गर्मागर्म वाली चल रही हैं. आए दिन सरकार गिरने की ख़बरें आती रहती हैं. ताजा मामला झारखंड कॉंग्रेस के 3 विधायकों से जुड़ा हुआ हैं जिन्हें बंगाल पुलिस ने रुपयों के साथ गिरफ्तार किया हैं।

Advertisement

कांग्रेस के तीन विधायक जामताड़ा से इरफान अंसारी, कोलेबिरा नमन विक्सल कोंगाड़ी और खिजरी से विधायक राजेश कच्छप को नकदी के साथ पश्चिम बंगाल की पुलिस ने हिरासत में लिया है। यह मामला सामने आते ही राजनीतिक दलों में घमासान मच गया है।

सोशल मीडिया पर भी आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। कांग्रेस इसे महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भाजपा BJP के ऑपरेशन लोट्स से जोड़ रही है। झामुमो के मंत्री ने कहा है कि झारखंड की निर्वाचित सरकार को अस्थिर करने की भाजपाई कोशिश का पर्दाफाश हुआ। प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने कांग्रेस से विधायकों के पास मिले नकद का स्त्रोत सार्वजनिक करने की मांग की है और सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। निर्दलीय विधायक सरयू राय ने मामले की जांच ईडी से कराने की मांग पीएम मोदी से की है।

Also Read: Jharkhand Old Pension Scheme: हेमंत सोरेन को घेरने के चक्कर में खुद फंसे बाबूलाल, पुरानी पेंशन योजना पर किया था सवाल

जनता की समस्याओं से दूर, कैश कलेक्शन में मस्त विधायक:

आलोचकों का कहना है कि मानसून सत्र आहूत है। लेकिन, कांग्रेस के तीनों विधायक जनता के सवाल, समस्याओं को सदन में रखकर समाधान कराने की तैयारी की बजाये कैश कलेक्शन में मस्त हैं। यह दुर्भायपूर्ण है। मानसून सत्र की व्यस्तता के बीच ये विधायक गुवाहाटी का रुख कर बैठे और हावड़ा में धरे गए। विधानसभा सत्र के दौरान विधायक राजधानी में ही रहते हैं। गठबंधन सरकार की सेहत को लेकर आये दिन बातें होती हैं। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि यदि सरकार को लेकर किसी तरह की साजिश चल रही थी तो फिलहाल इन इरादों पर ब्रेक लग जाएगा। अगर विधानसभा में पहले अनुपूरक बजट के दौरान कुछ पक रहा था तो उस पर भी ब्रेक लग जाएगा।

भाजपाई कोशिश का पर्दाफाश हुआ : मिथिलेश ठाकुर

गठबंधन सरकार में गढ़वा से झामुमो के विधायक और पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने जयराम रमेश के ट्वीट को रिट्वीट किया। दूसरी ओर उन्होंने भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी के ट्वीट पर पलटवार करते हुये लिखा कि बिल्कुल सही। प्रत्यक्षंम किम प्रमाणम। झारखंड की लोकचयनित सरकार को अस्थिर करने की भाजपाई कोशिश का पर्दाफाश हुआ। अब इसका और क्या सुबूत चाहिए?

कॉंग्रेस प्रदेश ने कहा, सरकार गिराने की भाजपा की साजिश बेनकाब:

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने पार्टी के तीन विधायकों डॉ इरफान अंसारी, नमन विक्सल कोंगाड़ी व राजेश कच्छप के नकदी के साथ पकड़े जाने की घटना को दुखद करार दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार गिराने की जो साजिश और षडयंत्र चल रहा है उसका पर्दाफाश हुआ है। लगातार गैर भाजपा शासित राज्यों की सरकार को कैसे अस्थिर किया जाए यह सामने दिखाई दे रहा है। चाहे महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश या फिर कर्नाटक हो, यहां जनता किसी को चुन कर भेजे, सरकारी किसी दूसरे की बनती है।

Leave a Reply