sitaram yechuri

सीताराम येचुरी के बेटे के निधन पर BJP नेता ने किया शर्मनाक ट्वीट, आलोचना के बाद ट्वीट को किया डिलीट Sitaram Yechury

amirtnk
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

Sitaram Yechury: देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है. इस महामारी के कारण कई दिग्गज शख्सियत दुनिया से रुखसत हो गए हैं. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी के बेटे आशीष येचुरी का गुरुवार की सुबह निधन हो गया वह कोरोना वायरस से ग्रसित थे.

Advertisement

सीताराम येचुरी के बेटे आशीष येचुरी का गुरुवार की सुबह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया है. वह 35 वर्ष के थे उनके निधन पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री मोदी समेत तमाम नेताओं ने शोक प्रकट किया है. इन सबके बीच एक शर्मनाक बात तब हुई जब बीजेपी के एक नेता ने उनके निधन पर एक शर्मनाक ट्वीट करते हुए लिखा कि “चीन का समर्थक CPM  महासचिव सीताराम येचुरी के बेटे आशीष येचुरी का चाइनीस कोरोना से निधन” यह ट्वीट जब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो बीजेपी के नेता ने उसे डिलीट कर दिया.

दरअसल. विवादित ट्वीट करने वाले भाजपा नेता मिथिलेश कुमार तिवारी हैं जो बिहार भाजपा के उपाध्यक्ष हैं और बैकुंठपुर के पूर्व विधायक रहे हैं. उनके ट्वीट को कई लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया जिसके बाद भाजपा नेता ने उस ट्वीट को अपने टि्वटर हैंडल से हटा दिया है. बता दें कि सीताराम येचुरी ने  अपने बेटे के निधन के बाद लिखा “भारी दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि कोविड-19 से आज सुबह मैंने अपने बेटे आशीष येचुरी को खो दिया. मैं उन सभी डॉक्टरों, नर्सों, अग्रिम मोर्चे के कर्मियों, सफाईकर्मियों का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने हमें हिम्मत दी और उनका उपचार किया तथा संकट के समय में हमारे साथ खड़े रहे”

सीताराम येचुरी के बेटे के निधन पर BJP नेता ने किया शर्मनाक ट्वीट, आलोचना के बाद ट्वीट को किया डिलीट Sitaram Yechury 1

मालूम हो कि आशीष येचुरी पेशे से एक पत्रकार थे. उनका इलाज गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में चल रहा था. उनके परिवार से जुड़े करीबी लोगों का कहना है कि वह 2 सप्ताह तक इस बीमारी से लड़े जिसके बाद गुरुवार  कि सुबह 5:00 बजे आशीष येचुरी ने आखिरी सांस ली.

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches