panchayat election

पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू, 700 से अधिक वोटर पर होगे सहायक बूथ

amirtnk
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

अगले साल होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं कोरोनावायरस की इस दौर में पंचायत चुनाव में बूथों का गठन कई मानकों के आधार पर किया जा रहा है बिहार में विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद 2021 के अप्रैल में होने वाली पंचायत चुनाव को लेकर विभाग की तरफ से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं पंचायत चुनाव में एक बूथ पर 700 से अधिक मतदाता होने पर नए सहायक बूथ का गठन किया जाएगा.

Advertisement

Also Read: नयी शिक्षा नीति के तहत आंगनबाड़ी सेविकाओं को लेना होगा प्रशिक्षण, सरकार कर रही है तैयारी

पंचायत आम निर्वाचन के लिए राज्य में 1 लाख 19 हजार 24 बूथ गठित किए गए हैं चुनाव के पहले आयोग द्वारा भूतों के पुनर्गठन का प्रस्ताव जिलों से मांगा जाएगा पिछले पंचायत चुनाव 2016 के जनवरी में ही भूतों का प्रारूप प्रकाशित किया गया था राज्य में पंचायत चुनाव मार्च-अप्रैल 2021 में कराए जाने हैं 2016 के पंचायत चुनाव में राज्य के 38 जिलों में कुल 10 चरणों में मतदान कराए गए थे पंचायत चुनाव में 1 मतदाता को एक साथ 6 प्रतिनिधियों का चुनाव करना होता है

Also Read: मैट्रिक और इंटरमीडिएट के लिए मॉडल प्रश्न पत्र का स्वरूप तैयार, जल्द विद्यार्थियों को कराया जायेगा उपलब्ध

यदि इस बार के पंचायत चुनाव में ईवीएम से मतदान कराया जाता है तो या बैलट पेपर के चुनाव से कम समय में पारदर्शी तरीके से संपन्न हो जाएगा पंचायत चुनाव में जिन पदों के लिए चुनाव कराया जाता है उसमें 8386 मुखिया 8386 सरपंच 114000 वार्ड सदस्य 114005 राज्य की 534 पंचायत समितियों के लिए 11497 पंचायत समिति के सदस्य और 38 जिलों में 1161 जिला पार्षद सदस्यों का चुनाव कराया जाना है राज्य में 114000 वार्ड हैं ऐसे में हर वार्ड में एक भूत के साथ ही वैसे वार्डों में जहां पर 700 से अधिक मतदाता होंगे वहां पर सहायक भूतों का गठन किया जाएगा

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches