jac-compartment-exam

Jharkhand academic council: मार्च-अप्रैल में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की होगी परीक्षा

amarsid
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

कोरोनावायरस के कारण विद्यालयों में पठन-पाठन का कार्य बाधित है झारखंड एकेडमिक काउंसिल की तरफ से 10वीं और 12वीं के सिलेबस में 40% की कटौती की गई है 2021 में झारखंड एकेडमिक काउंसिल की तरफ से मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं फरवरी में नहीं कराई जाएंगी इस बार परीक्षा मार्च और अप्रैल महीने में होने की संभावना है झारखंड एकेडमिक काउंसिल और स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के लोगों का कहना है कि इस बार कोरोनावायरस के कारण परीक्षा में देरी हो सकती है.

Advertisement

Also Read: JAC: कक्षा 1 से लेकर 8वीं तक का संशोधित सिलेबस के आधार पर जारी हुआ कैलेंडर

परीक्षा देरी से होने के सवाल पर झारखंड एकेडमिक काउंसिल के चेयरमैन डॉ अरविंद कुमार सिंह का कहना है कि अभी परीक्षा को लेकर कोई भी तिथि घोषित नहीं की जा सकती है कोरोनावायरस के कारण इसमें देर हो सकती है परंतु परीक्षा के आयोजन की तैयारी चल रही है दिसंबर महीने से मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए फॉर्म भरे जाएंगे मालूम हो कि स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने पहले ही दोनों परीक्षाओं के सिलेबस में कटौती कर चुकी है इस बार दोनों परीक्षाएं बदले पैटर्न में भी होंगे तथा इसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे जगदीश की तैयारी कर रहा है विभिन्न राज्यों में हुए परीक्षा पैटर्न बदलाव का अध्ययन करने के बाद जैक भी से लागू करने की तैयारी में है.

Also Read: BEd कॉलेजों में नामांकन के लिए करे 10 दिसंबर तक रजिस्ट्रेशन

10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के विद्यालय जाने पर संशय:

झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद के निर्देशक शैलेश कुमार चौरसिया का कहना है कि स्कूलों के खुलने पर अभी पूरी तरह कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है साथ ही कोई भी संभावना दिखाई नहीं दे रही है लेकिन 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को शिक्षकों से परामर्श के लिए स्कूल आने को लेकर आपदा प्रबंधन विभाग से अनुमति मांगी गई है यदि अनुमति मिलती है तो आवश्यक दिशा निर्देश स्कूलों को भेजा जाएगा

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches