Skip to content
Image Courtesy: Twitter

TRP फर्जीवाड़ा करने वालों पर बढ़ी मुसीबत, Parle अब नहीं देगा ऐसे चैनलों को विज्ञापन

News Desk
Image Courtesy: Twitter

रिपब्लिक भारत के साथ देश के अन्य बड़े चैनल्स के टीआरपी घोटाला सामने आने के बाद कंपनियां ऐसे चैनलों पर विज्ञापन को लेकर सतर्क हो गई हैं। क्योंकि इस फर्जीवाड़े से उनको नुकसान हुआ है, बड़े ऐडवटाइजर्स और मीडिया एजेंसीज में इस बात को लेकर अफरा तफरी जारी है, जानकारों का कहना है की रिपब्लिक भारत, सुदर्शन जैसे कुछ न्यूज़ एजेंसी नफरत को बढावा देने वाला जहरीला कंटेंट दिखाते हैं ऐसे में बड़ी कंपनियों ने फैसला लिया है के वो उन चैनल्‍स को विज्ञापन नहीं देंगी जो ‘नफरत को बढावा देने वाला, जहरीला कंटेंट दिखाती है। कुछ दिने पहले ही बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज ने तीन चैनल्‍स को ब्‍लैकलिस्‍ट करने की बात कही थी। अब पारले प्रॉडक्‍ट्स ने भी कहा है कि वह कुछ चैनल्‍स पर विज्ञापनों के खर्च को कम करने की सोच रही है ताकि बाकी चैनल्‍स को एक साफ संदेश जाए। इस कदम के लिए सोशल मीडिया पर कंपनी की खूब तारीफ हो रही है.

Advertisement

ट्विटर पर पारले के इस फैसले से हो रही वाहवाही
ट्विटर पर पारले के इस फैसले को सराहा जा रहा है, उनमें से कुछ ट्वीट

Leave a Reply