देशभर में उत्तरप्रदेश के कोरोना मरीज जल्दी हो रहे ठीक, योगी सरकार का प्रयास कारगर

देश के सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण इतना भयावाह रूप नहीं ले सका। यहां पर लॉकडाउन का काफी सख्ती से पालन कराया गया और सीएम योगी आदित्यनाथ ने लगातार अपनी टीम-11 के अफसरों तथा जिलों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और समय-समय पर बेहतर से बेहतर योजना को क्रियान्वित भी कराया गया।

Also Read: जानिए झारखण्ड में सरकारी विद्यालय के बच्चो की ऑनलाइन पढाई किस चैनल पर होगी।

कोरोना वायरस के संक्रमण से उत्तर प्रदेश में पॉजिटिव तथा मृतकों की संख्या के अनुपात में स्वस्थ होने वाले अधिक हैं। उत्तर प्रदेश में इसके कहर से उबरने वालों के आंकड़े का प्रतिशत देश में सर्वाधिक है। प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव होने वालों का प्रतिशत 37 फीसद से अधिक है। यह देश में सर्वाधिक है। इनके बीच में भी 75 जिलों वाले राज्य में चित्रकूट में मरीज पाए जाने के बाद अब कुल 62 जिलों में कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं।

Also Read: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश रिम्स में भर्ती, प्रतुल सहदेव ने कहा अनावश्यक भीड़ ना करें।

उत्तर प्रदेश कोरोना के 65 फीसद मरीज आगरा कानपुर लखनऊ सहित नौ जिलों में है। बाकी 53 जिलों में 35 फीसद मरीज है। वही स्वस्थ होने वाले मरीज 37 फीसद से अधिक हैं जो कि राष्ट्रीय स्तर से ज्यादा है। अब तक 64 लोगों ने दम तोड़ा है। प्रदेश में बीते दो दिनों से लगातार नए मरीजों की तुलना में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या ज्यादा है। बुधवार को भी 143 मरीज स्वस्थ हुए और अब तक कुल 1130 मरीज डिस्चार्ज होकर अस्पताल से घर जा चुके हैं। यह कुल मरीजों का 37.6 प्रतिशत है जो कि राष्ट्रीय औसत 28.7 फीसद से कहीं अधिक है।

Also Read: लॉकडाउन के दौरान सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों में से एक तिहाई प्रवासी मजदूर

कुल 2998 मरीजों में से 75.78 प्रतिशत पुरुष हैं और 24.22 फीसद महिलाएं। अब अगर उम्र के हिसाब से विश्लेषण किया जाए तो 21 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक की आयु वाले 48.23 प्रतिशत लोग संक्रमित हैं। वही 41 वर्ष से लेकर 60 वर्ष की आयु वाले 26.54 फीसद लोग बीमार हैं। वही सबसे कम 7.44 फीसद बुजुर्ग और नवजात शिशु से लेकर 20 वर्ष तक की आयु वाले 17.78 प्रतिशत कोरोना की गिरफ्त में हैं।

Leave a Reply