Skip to content

सीएम के काफिले पर हुए हमले के बाद डीजीपी ने दो थाना प्रभारी को किया सस्पेंड

Arti Agarwal

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर राजधानी रांची के किशोरगंज चौक के पास सोमवार की शाम को हमला किया गया था जिसके बाद राजधानी रांची में अफरातफरी का माहौल बन गया था

Advertisement

रांची के ओरमांझी के अंतर्गत साईंनाथ विश्वविद्यालय के समीप एक युवती की सिरकटी लाश मिली थी जिसके बाद राज्य में सियासी पारा तेज हो गया था झारखंड के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी इस मामले को लेकर हमले के दिन राज्य के विभिन्न इलाकों में मुख्यमंत्री का पुतला दहन कर रहे थे रांची में भी यह कार्यक्रम हो रहा था लेकिन अचानक सोमवार की शाम जब मुख्यमंत्री प्रोजेक्ट भवन से अपने करकेट के साथ अपने आवास के लिए निकले तो किशोरगंज चौक के पास युवकों के हुजूम ने उन्हें घेर लिया और उनके सुरक्षा में चल रही वाहन पर हमला कर दिया.

Also Read: CM के काफिले पर हुए हमले को लेकर बोले डीजीपी- आयरन हैंड से कुचलेंगे, कोई ताकत नहीं रोक पायेगा

हालांकि जिस वक्त उनके कारकेट पर हमला किया गया उस समय मुख्यमंत्री वहां मौजूद नहीं थे जिस वजह से उन्हें दूसरे रास्ते से वहां से निकाला गया सीएम के काफिले पर हुए हमले के बाद रांची पुलिस की हर जगह फजीहत हो रही है जिसे देखते हुए झारखंड के डीजीपी ने एसएसपी कार्यालय पहुंचकर जिले के सभी थानेदारों के साथ बैठक की है.

Also Read: महिला का दावा ओरमांझी में मिली सिरकटी लाश मेरी बेटी की है! पुलिस एक युवक को हिरासत में लेकर कर रही पूछताछ

प्राप्त जानकारी के अनुसार डीजीपी ने दो थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है उन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया गया है डीजीपी ने जिन दो थाना प्रभारियों को सस्पेंड किया है उनमें सुखदेव नगर और कोतवाली थाना प्रभारी शामिल है. बता दें कि सीएम के काफिले पर किए गए हमले में आम जनता और पुलिस के वाहन को भीड़ ने निशाना बनाया और तोड़फोड़ भी की थी एक ट्रैफिक पुलिस वाला घायल भी बता जिसका इलाज मेडिका अस्पताल में चल रहा है.

1 thought on “सीएम के काफिले पर हुए हमले के बाद डीजीपी ने दो थाना प्रभारी को किया सस्पेंड”

  1. भाजपा द्वारा प्रदर्शन तो एक बहाना था मुख्य उद्देश्य माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन पर हमला करना था क्योंकि भाजपा शासित प्रदेशों में ऐसे जघन्य घटना हर रोज हो रहे हैं जिस पर भाजपा के लोग एक उंगली भी नहीं उठाते हैं आज भी यूपी के भदोही जिला में एक 50 वर्षीय आंगनवाड़ी सहायिका के साथ पुजारी और उनके शिष्य मिलकर गैंग रेप किया ऐसे अनगिनत जगन्ना अपराध हर रोज हो रही है

Leave a Reply