Skip to content
Advertisement

Manipur Voilence: मुख्यमंत्री के निर्देश पर मणिपुर में फंसे छात्रों की हो रही झारखंड वापसी

Divya Kumari

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर मणिपुर (Manipur Voilence) से झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम, पूर्वी सिंहभूम, बोकारो, धनबाद और रांची के 34 छात्रों की सुरक्षित वापसी की जा रही है। श्रम विभाग द्वारा संचालित राज्य प्रवासी नियंत्रण कक्ष-कंट्रोल रूम में मणिपुर में फंसे कुल 34 छात्रों की सूची प्राप्त हुई है। ये सभी अलग-अलग यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं हैं।

34 में से 22 विद्यार्थीयों का टिकट सोमवार को श्रम विभाग एवं आपदा प्रबंधन विभाग के सहयोग से कन्फर्म कर दिया गया। ये सभी विद्यार्थी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, सेंट्रल एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, नेशनल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी एवं आईआईटी-टी मणिपुर में अध्यनरत हैं।

इसे भी पढ़े- Manipur News: मणिपुर जैसे बीजेपी शासित राज्यों में आदिवासियों को सवाल पूछने का भी हक़ नहीं!

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देशानुसार झारखंड सरकार इन छात्रों को आर्मी के साथ समन्वय करते हुए एयरलिफ्ट करने की तैयारी को अंतिम रूप दे रही है। बिहार के भी कई छात्र मणिपुर में हैं। दोनों राज्य के छात्रों को साथ में लाने की तैयारी चल रही है।

इधर झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर बताया है कि मणिपुर में हिंसा के बाद स्थिति तनावपूर्ण है। कई क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू है। मणिपुर के नेशनल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी इंफाल में झारखंड के कई छात्र फंसे हुए हैं। उन्हें वापस लाने की अपील की है। कांग्रेस ने 10 छात्र-छात्राओं की लिस्ट भी जारी की है, जो विश्वविद्यालय में फंसे हुए हैं।

Advertisement
Manipur Voilence: मुख्यमंत्री के निर्देश पर मणिपुर में फंसे छात्रों की हो रही झारखंड वापसी 1