Skip to content
Advertisement

कृषि मंत्री ने कहा, धान में बीमारी का आकलन कर किसानों को मिलेगा मुआवजा

Arti Agarwal

बीते दिनों देवघर, गोड्डा और दुमका क्षेत्र में धान में ब्राउन प्लांट हाॅपर नाम कीट के प्रकोप की खबरों को लेकर कृषि विभाग सक्रिय हो गया है। इस संबंध में कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने विभाग के पदाधिकारियों को निदेश दिया है कि सभी किसान मित्रों एवं पंचायत स्तर के कृषि पदाधिकारियों से किसानों के नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट तैयार करवायें और जिन किसानों को इस बीमारी से नुकसान हुआ है, उन्हें मुआवजा दिया जाय।

कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने बताया कि ब्राउन प्लांट हाॅपर नामक बीमारी जिसे ग्रामीण बोलचाल में भनभनिया नामक बीमारी कहा जाता है। इस संबंध में बैठक में विस्तृत चर्चा की गयी है तथा आपदा प्रबंधन विभाग से भी संपर्क स्थापित करने का निदेश कृषि विभाग के पदाधिकारियों को दिया गया है। जल्द ही भनभनिया बीमारी से पीड़ित किसानों के नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट मांगी गयी है। उन्होंने बताया कि विभागीय सचिव की ओर से सभी उपायुक्तों को पत्र भेजा जा रहा है साथ ही उन्होंने जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि किसानों के नुकसान का आकलन कर, अपना मंतव्य स्थानीय पदाधिकारी को दें ताकि किसानों को नुकसान की भरपाई की जा सके।