Skip to content

राज्य सरकार के 1 वर्ष पूरे होने पर पोल खोल कार्यक्रम का आयोजन करेंगी आजसू पार्टी

Arti Agarwal

झारखंड में हेमंत सोरेन के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार चल रही है इस गठबंधन में कांग्रेस झामुमो और राजद शामिल है पिछले वर्ष यानी 2019 के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन को मिले बहुमत के बाद 29 दिसंबर को हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. 29 दिसंबर 2020 को हेमंत सोरेन सरकार का 1 वर्ष का कार्यकाल पूरा हो रहा है ऐसे में सरकार 1 वर्षों के दौरान किए गए कार्यों का लेखा-जोखा जनता के सामने रखने की तैयारी में जुटी हुई है

हेमंत सरकार के द्वारा 1 वर्षों के दौरान किए गए कार्यों को जनता के सामने रखने की तैयारी में जुटी हुई है वही कोरोना काल के दौरान विकास कार्य प्रभावित हुई है इसका भी लेखा-जोखा सामने रखा जा सकता है साथ लॉकडाउन के दौरान देश में पहली ट्रेन चलाने की बात हो यह फिर हवाई जहाज से मजदूरों को लाने की बात इन सब को राज्य सरकार अपनी उपलब्धियों के तौर पर रख सकती है.

झारखंड की राजनीतिक पार्टी आजसू राज्य सरकार के 1 वर्ष पूरे होने पर 29 दिसंबर को झारखंड सरकार की विफलताओं की पोल खोल कार्यक्रम आयोजित कर सरकार को आईना दिखाएगी सरकार की कथनी और करनी में काफी अंतर है सरकार लोक लुभावने वादे के बूते सत्ता पर काबिज हुई है और जनविरोधी हो चुकी है. सरकार युवाओं को नौकरी, सरकार गठन के 3 माह के भीतर सभी अनुबंध कर्मियों को नियमित करने, 1932 के आधार पर स्थानीयता को लागू करना, स्नातक स्तर के छात्रों को ₹5000 और स्नातकोत्तर के छात्रों को ₹7000 छात्रवृत्ति, बिजली बिल, कृषि ऋण माफ करना जैसे वादे कोरे साबित हुए हैं. उक्त बातें आजसू पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता डॉ देवशरण भगत ने कही है.

दरअसल, डॉ देवशरण भगत को रामगढ़ जिला का प्रभारी बनाया गया है आजसू पार्टी के जिला कमेटी की बैठक रामगढ़ जिला कार्यालय में संपन्न हुई इसी बैठक को संबोधित करते हुए देवशरण भगत ने सरकार को जमकर घेरा है.

Leave a Reply