Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on email
Share on print
Share on whatsapp
Share on telegram

पांच जनवरी को झाविमो की कार्यकरणी को भंग करने के बाद बाबूलाल मरांडी छुट्टी पर विदेश चले गए थे जिसके बाद से राजनितिक गलियारों में चर्चा जोरो पर थी की बाबूलाल मरांडी की भाजपा के बड़े नेताओ से भाजपा में जाने को लेकर बात पक्की हो गयी हो और विदेश यात्रा से लौटने के बाद बाबूलाल मरांडी 16 या 17 जनवरी को भाजपा में शामिल हो जायेंगे।

adsApp Link: bit.ly/30npXi1

लेकिन विदेश यात्रा से लौटने के बाद बाबूलाल मरांडी ने साफ़ किया की वो कही नहीं जा रहे है. और वो कोई ऐसा काम नहीं करेंगे जिससे लाखो लोगो का दिल दुखे।बाबूलाल मरांडी के भाजपा में जाने की खबरों के बीच जब प्रदीप यादव और बंधू तिर्की से सवाल किया गया तो दोनों विधायकों ने साफ किया की उनका भाजपा में जाने का कोई इरादा नहीं है. और अगर बाबूलाल मरांडी भाजपा में जा रहे है तो उन्हें एक बार सोचने की जरुरत है.

Also Read: झाविमो विधायक बंधू तिर्की ने कहा- बाबूलाल भाजपा में गये तो हमारा रास्ता अलग
झारखंड विकास मोर्चा की नई कार्यकारिणी का शुक्रवार को गठन कर लिया गया है। बाबूलाल मरांडी को दोबारा पार्टी का केंद्रीय अध्यक्ष चुना गया है। पार्टी की नई कार्यकारिणी में 151 सदस्यों को जगह दी गई है। अभय सिंह को पार्टी का प्रधान महासचिव बनाया गया है। वहीं मांडर से झाविमो विधायक बंधु तिर्की और पौड़ेयाहाट से पार्टी के विधायक प्रदीप यादव को कोई पद नहीं दिया गया है। इससे पहले की कार्यकारिणी में प्रदीप यादव प्रधान महासचिव थे।adsApp Link: bit.ly/30npXi1

पांच जनवरी को भंग हुई थी जेवीएम की कार्यकारिणी:

झारखंड विकास मोर्चा प्रजातांत्रिक के केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने पांच जनवरी को पार्टी की कमेटी को भंग कर दिया था। चुनाव बाद हुए पहली कार्यसमिति की बैठक में मरांडी ने इस आशय का प्रस्ताव ले आए थे। जिसका प्रदीप यादव ने विरोध किया था और कहा था कि संविधान के अनुसार पार्टी भंग करने का कोई प्रावधान नहीं है। बाद में सर्वसम्मति से पूरी कार्यसमिति ने मरांडी को नए सिरे से पार्टी पुनर्गठन के लिए अधिकृत कर दिया था।

Also Read: हेमंत सोरेन के बढ़ते कद से घबरा गयी है भाजपा? इसलिए बाबूलाल के सहारे अपने कुनबे को बचाने की कर रही कोशिश

Leave a Reply