Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on email
Share on print
Share on whatsapp
Share on telegram

adsDownload App Here

झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के भाजपा में जाने की बात लगभग सत्य साबित होती नजर आ रही है. भाजपा में जाने वाली खबर सुनकर पार्टी के विधायक प्रदीप यादव और बंधू तिर्की और पूर्व विधायक सबा अहमद खफा है तो वही भाजपा के कई नेता बाबूलाल मरांडी के भाजपा में शामिल होने की बात सुन कर काफी खुश है. इसका अंदाजा कोडरमा से पूर्व सांसद और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र राइ के दिए बयान से लगाया जा सकता है.

Also Read: सुदिव्य कुमार ने बाबूलाल मरांडी पर कसा तंज कहा- सोचा हुजूर को याद दिला दूँ कुतुबमीनार से कूदने वाली बात !

राजनीतिक रूप से भाजपा और मरांडी का डीएनए एक ही है। जब भाजपा दूसरे दलों के लोगों को गले लगाती है तो उन्हें क्यों नहीं। हम चाहते हैं कि जो भी हमसे बिछड़े हैं, सभी एकजुट हो जाएं। ये बातें भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व सांसद रवीन्द्र राय ने रविवार को जमशेदपुर में कहीं। ब्रह्मर्षि विकास मंच की ओर से नीलडीह पार्क में आयोजित मिलन समारोह सह वनभोज में शामिल होने पहुंचे राय मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

Also Read: रोजगार देने के मामले में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से पीछे है भारत- जानिये इसके पीछे की वजह

उन्होंने मरांडी के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि मन में किसी घटना को लेकर क्षोभ हो जाता है। परंतु समय एवं परिस्थिति उसे दूर कर देती हैं। इस मौके पर उन्होंने एक फिल्मी गीत …मेरा दर खुला है, खुला ही रहेगा, तुम्हारे लिए… के जरिए भावनाओं का इजहार किया। मरांडी को भाजपा विधायक दल का नेता बनाए जाने के बारे में पूछने पर उनका जवाब था, संगठन व विधायक दल में संतुलन को ध्यान में रखकर हो सकता है केन्द्रीय नेतृत्व की कोई योजना हो।

Also Read: ढुल्लू महतो गुट की दबंगई मांगी रंगदारी झामुमो गुट से हुआ झड़प, फायरिंग

Leave a Reply