Skip to content
inc jh

झारखंड कांग्रेस मुख्यालय में मनाई गई इंदिरा गांधी और सीताराम केसरी की जयंती

Arti Agarwal

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रांची स्थित पार्टी कार्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय इंदिरा गांधी और स्वर्गीय सीताराम केसरी की जयंती मनाई इस मौके पर मुख्य रूप से कांग्रेस विधायक दल के नेता ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम उपस्थित थे साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय भी मौजूद रहे स्वर्गीय इंदिरा गांधी और स्वर्गीय सीताराम केसरी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किया गया

Advertisement

पार्टी कार्यालय में मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि पूरी दुनिया इंदिरा गांधी को नारी शक्ति और नारी नेतृत्व के रूप में जानती है केवल देश ही नहीं दुनिया को भी उन्होंने नहीं रोशनी दिखाई है स्वभाव सर्व धर्म और धर्मनिरपेक्षता की जड़ों को मजबूत करने वाली नेत्री ने सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में कांग्रेस के योगदान को देश की जनता के सामने रखा है साथ ही उन्होंने एक वाक्य का चर्चा करते हुए कहा कि भुनेश्वर की सभा में इंदिरा गांधी का अंतिम वाक्य कि मैं रहूं या ना रहूं मेरे खून का एक-एक कतरा देश के काम आएगा आज सही साबित हो रही है बैंकों का राष्ट्रीयकरण 1971 में बांग्लादेश 126 गुटनिरपेक्ष देशों के नेता बनी थी

इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने भी इंदिरा गांधी को याद करते हुए कहा कि 4 मूल मंत्र दूर दृष्टि पक्का इरादा कड़ी मेहनत अनुशासन आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं देश की सच्ची सेवा और समर्पण ने उनको एक महान व्यक्तित्व की संज्ञा दी है दूसरी तरफ कांग्रेस संगठन को उनके नेतृत्व में एक नई दिशा मिली थी विकासशील देशों की पंक्तियों में भारत को स्थापित करने में इन स्वर्गीय इंदिरा गांधी जी का बहुत बड़ा योगदान था वर्ष 1966 से 77 तक लगातार तीन पारी के लिए भारत गणराज्य की प्रधानमंत्री रही और बाद में चौथी पारी में 1980 से लेकर 1984 में उनकी राजनीतिक हत्या तक भारत की प्रधानमंत्री रहे वह भारत की प्रथम और अब तक एकमात्र महिला प्रधानमंत्री रही हैं

वहीं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे स्वर्गीय सीताराम केसरी के संगठन क्षमता के बारे में याद करते हुए वक्ताओं ने सराहना की इस मौके पर प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश संजय लाल पासवान मानस सिन्हा जोनल कोऑर्डिनेटर रमा खलखो प्रवक्ता शमशेर आलम राजीव रंजन प्रसाद विनय सिन्हा दीपू संजय पांडे सहित अन्य लोग मौजूद थे

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches