Skip to content
BJP-Flag

सत्ताधारी दलों पर सरकारी तंत्र के दुरुपयोग का भाजपा ने लगाया आरोप, चुनाव आयोग से की शिकायत

News Desk

राज्यसभा चुनाव को लेकर मुख्य सत्ताधारी दलों झामुमो और विपक्षी दल भाजपा के बीच बयानबाजी तेज हो गयी है. पक्ष और विपक्ष इतने में ही नहीं शांत हुए बल्कि दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग कर रहे है.

Advertisement

Also Read: विधायक इरफ़ान अंसारी के आवास पर हो रही बैठक में शामिल होने पहुँचे CM सोरेन, जीत की बनेगी रणनीति

राज्यसभा चुनाव के लिए सरला बिरला स्‍कूल के हॉस्‍टल में सभी बीजेपी विधायक पॉलिटिकल क्‍वारंटाइन में रखा गया है यहीं बीजेपी विधायकों के रहने की व्‍यवस्‍था की गई थी. कल यानी 17 जून को भाजपा विधायकों ने यहाँ क्रिकेट भी खेली थी जिसके बाद से ही एक दूसरे पर बयानबाजी तेज हो गयी है. जेएमएम ने मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त को पत्र को लिखकर मामले से अवगत कराया था और आपदा प्रबंधन एक्‍ट के उल्‍लंघन का हवाला देकर सरला बिरला स्‍कूल के हॉस्‍टल को खाली कराने का आग्रह किया था.

Also Read: JMM ने BJP पर लगाया विधायकों को जबरन क्वारंटाइन करने का आरोप, कहा भाजपा में हाहाकार मची है

भाजपा ने भी यूपीए विधायक दल की बैठक को चुनाव आचार सहिंता का उल्लंघन बताया था. दरअसल हुआ यूँ की राज्यसभा चुनाव के लिए यूपीए गठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री आवास में एक बैठक का आयोजन किया गया था. जहाँ कांग्रेस, झामुमो और राजद के विधायक सहित तमाम नेता भी पहुंचे थे. जिसपर भाजपा ने लॉकडाउन का उल्लंघन और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से हस्तक्षेप करने की मांग कर दी. उसी मांग को लेकर भाजपा विधायक राज सिन्हा और विरंची नारायण चुनाव आयोग से शिकायत करने पहुँच गया. और चुनाव आयोग से सत्ताधारी दलो के विधायकों पर कार्रवाई की मांग की.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches