Skip to content

BJP ने सदन में उठाया बालू घाटों की नीलामी का मुद्दा, जानिए जवाब में सीएम हेमंत सोरेन ने क्या कुछ कहा

Arti Agarwal

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान 16 मार्च 2021 दिन मंगलवार को सदन में भारतीय जनता पार्टी के विधायकों द्वारा बालू घाटों की नीलामी का मुद्दा उठाया गया. जिसका जवाब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिया मुख्यमंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि बालू घाटों की नीलामी आने वाले अप्रैल महीने में होगी.

मुख्यमंत्री ने विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए उन पर तंज भी कसा उन्होंने कहा कि बालू का अवैध तरीके से तस्करी किसकी सरकार से होते आ रही है यह किसी से छुपा नहीं है. उन्होंने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग सिर्फ हमेशा यही कोशिश करते हैं कि कैसे सरकार को बदनाम किया जाए. यह पार्टी हमेशा चुनावी मोड में रहती है.

Also Read: झारखंड में प्रमंडल स्तर पर खुलेंगे अल्पसंख्यक और ओबीसी के लिए आवासीय विद्यालय, सदन में मंत्री चंपई सोरेन ने दी जानकारी

पूर्व मुख्यमंत्री और विधायक बाबूलाल मरांडी के द्वारा सदन में बालू घाटों से होने वाली अवैध तस्करी और पुलिस के द्वारा आम लोगों को सताए जाने का मुद्दा उठाया गया. बाबूलाल मरांडी ने कहा कि पूरे प्रदेश में 25 बालू घाटों की नीलामी हुई है यदि आसपास के गांव के लोग नदी से बालू उठाकर पीएम आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए लेकर जाते हैं तो पुलिस उनसे पूछताछ करती है और उन्हें पकड़ लेती है जो समझ से परे है. बालू घाटों से बालू का उठाव करके बिहार भेजा जाता है और यह सब प्रशासन की मिलीभगत के कारण होता है. विरोध करने पर लोगों को थाने में बैठाकर परेशान किया जाता है. जब तक सभी बालू घाटों की नीलामी नहीं हो जाती है तब तक सभी बॉर्डर और चेक-पोस्ट को सील कर देना चाहिए.

Leave a Reply