Skip to content

Chatra News: उपायुक्त अबु ईमरान को फंसाने की हो रही साजिश, जानिए हम ऐसा क्यूँ कह रहे हैं

tnkstaff

hatra News: भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी व तत्कालीन चतरा के उपायुक्त अबु ईमरान को क्या फंसाने की कोई साजिश चल रही हैं. क्या कोई ऐसा हैं जो उन्हें उपायुक्त के रूप में जनता के साथ मिलकर काम करने नहीं देना चाहता हैं.

Advertisement

ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि विगत कुछ महीनों से जहां वह उपायुक्त रहें हैं या हैं वहाँ के पुराने और अबु ईमरान से कोई ताल्लुक नहीं रखने वाले मामलों को तूल दिया जा रहा हैं. वजह साफ़ हैं कि कोई ऐसा हैं जो बेवजह उनका नाम उछाल कर बदनाम करने की कोशिश कर रहा है.

Aslo Read: इंश्योरेंस कंपनियां किसानों के लंबित 811करोड़ के दावे का करेगी भुगतान- सीईओ

IAS अबु ईमरान वर्तमान में चतरा के उपायुक्त है. “चतरा उपायुक्त घर में स्वीमिंग पुल बन गया” नामक शीर्षक के साथ कई अखबारों और पोर्टल वालों ने ख़बरें छापी हैं लेकिन किसी ने यह नहीं बताया कि जिस स्विमिंग पुल निर्माण की बात कही जा रही हैं वह किस उपायुक्त के पदस्थापित रहते हुए बनी थीं. किस योजना की राशि से बना. किसके आदेश पर बना. निर्माण की स्वीकृति किसने दी. ऐसे किसी सवाल का जवाब किसी के पास नहीं है. चतरा जिला के डीसी के घर में स्वीमिंग पुल बना हुआ है. सरकार के उच्चाधिकारी भी हैरान हैं. आखिर डीसी के घर में स्वीमिंग पुल कैसे बना लिया गया. डीसी जिले का कल्याण करने के लिए होते हैं या अपने घर में स्वीमिंग पुल बनवाने के लिए. सूत्रों ने दावा किया है कि यह काम तब हुआ है, जब चतरा डीसी के पद पर आईएएस अधिकारी अंजलि यादव पदस्थापित थीं. इतना ही नहीं उनके कार्यकाल में चतरा डीसी आवास के कार्यालय में वुडेन फ्लोर भी लगाए गए और पूरे परिसर में इंटर वाकिंग पेवर ब्लॉक लगाए गए हैं.

दस्तावेजों के मुताबिक 14 नवंबर 2021 डीसी के कार्यालय से और 17 जून 2022 को जिला नजारत कार्यालय से चतरा भवन प्रमंडल विभाग के कार्यालय अभियंता को पत्र भेजा गया था, जिसमें डीसी आवास में स्वीमिंग पुल बनाने, परिसर में इंटर वॉकिंग पेवर ब्लॉक (बच्चों के अनुकूल) बनाने व कार्यालय के फ्लोर को वुडेन फ्लोरिंग करने के लिए निर्देशित किया गया था. 29 सितंबर 2022 को कार्यपालक अभियंता ने निर्माण से संबंधित प्रस्ताव पर प्रशासनिक स्वीकृति के लिए भवन निर्माण विभाग के सचिव को भेजा गया.

Chatra News: IAS अबु ईमरान ने जुलाई में संभाला था कार्यभार:

तत्कालीन उपायुक्त अबु ईमरान ने जुलाई 2022 में चतरा उपायुक्त का पदभार संभाला था. इससे पहले वे लातेहार के उपायुक्त रहें हैं. लातेहार का उपायुक्त रहते हुए उन्होंने कई ऐसे काम किए जो सीधे जनता के हितों में था. चतरा स्थानांतरण होने के बाद यहां भी वह लगातार सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने और उनकी समस्याओं को निष्पादन के लिए कार्य कर रहे हैं लेकिन लातेहार में “अवैध तालाब निर्माण” और अब “चतरा उपायुक्त के आवास में स्विमिंग पुल का निर्माण” शीर्षक के साथ दो ख़बरें छपी हैं जिनसे उनका नाम जोड़ने की कोशिश की जा रही हैं ताकि उन्हें बदनाम किया जा सके. अब यह कौन कर रहा हैं यह कह पाना मुश्किल हैं क्योंकि हमारे पास कोई सबूत नहीं हैं.

Chatra News: प्रस्ताव भेजने से पहले ही बन गया था स्वीमिंग पुल

सूत्रों के मुताबिक भवन निर्माण विभाग को प्रस्ताव भेजने से पहले ही डीसी आवास में निर्माण कार्य करा लिया गया. कहा तो यह भी जा रहा है कि डीसी कार्यालय व जिला नजारत कार्यालय से कार्यपालक अभियंता को पत्र लिखने से पहले ही निर्माण कार्य पूरा करा लिया गया था. इस बीच जानकारी मिली है कि निर्माण कार्य कराने वाले ठेकेदार ने अब जिला प्रशासन से संपर्क कर खर्च हुई राशि के भुगतान की मांग कर दी है. जिसके बाद यह मामला पहले चतरा जिला प्रशासन के बीच चर्चा में आया और अब दूसरे जिलों के अफसरों व इंजीनियरों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है.

Leave a Reply