Skip to content
chatra

Chatra: मोनी कुमारी मर्डर केस की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली, हत्यारे को किया गिरफ्तार

Arti Agarwal

चतरा जिले की सदर थाना पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है पुलिस ने करीब 9 महीने पुराने मोनी कुमारी ब्लाइंड मिसिंग केस की गुत्थी सुलझा ली है मामले में प्यार शादी और फिर दहेज के लिए पति की ओर से अपनी पत्नी की हत्या का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया था.

Advertisement

मामले की जांच करते हुए पुलिस ने छापेमारी कर आरोपी पति दीपक साहू को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही मोनी मर्डर केस में प्रयुक्त बाइक और उसे जलाने में प्रयुक्त लकड़ी के पटरा का लोहे का किला भी बरामद किया गया है. थाना प्रभारी लव कुमार का कहना है कि बीते अप्रैल महीने में जिले के लावालोंग थाना क्षेत्र निवासी दीपक कुमार ने सदर थाना में अपनी पत्नी की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी साथ ही अपने ससुराल वालों पर उसकी गुमशुदगी की जानकारी दी थी जिसके बाद उसके ससुराल वालों ने हजारीबाग सदर थाना में दहेज प्रताड़ना को लेकर दीपक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराते हुए अनहोनी की आशंका व्यक्त की थी.

हजारीबाग पुलिस और मोनी के परिजनों ने चतरा सदर थाना पुलिस से मामले में सहयोग मांगा था हजारीबाग पुलिस और मोनी के परिजनों के आग्रह के बाद सदर थाना पुलिस ने मामले में आरोपी दीपक साहू को उसके मोहल्ला स्थित किराए के मकान से गिरफ्तार किया है जिसके बाद सदर थाना में पूछताछ के दौरान उसने अपनी पत्नी की हत्या कर शव को जला देने की बात स्वीकार कर ली. वही उसी की निशानदेही पर पुलिस ने घटनास्थल से लाश को जलाने में प्रयुक्त किए गए लकड़ी के पटरी में लगे लोहे की कील बरामद की है.

थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी दीपक ने अपनी पत्नी की हत्या किराए के मकान में की थी जिसके बाद साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से रात के अंधेरे में जंगल ले जाकर शव को सेट्रिंग में प्रयुक्त पटरा और पेट्रोल से जला दिया और पकड़ा ना जाए इसलिए उसने थाने में झूठी सूचना देकर सनहा दर्ज कराते हुए पुलिस और परिजनों को गुमराह कर दिया उन्होंने बताया कि दीपक और मोनी की शादी करीब 4 वर्ष पहले हजारीबाग में ही अंतरराज्य प्रेम विवाह हुआ था शादी के बाद से ही दोनों में दहेज को लेकर अनबन चल रही थी.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches