मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा, दूसरे राज्यों में फंसे लोगो को वापस लाने में मदद करे केंद्र सरकार

Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on reddit

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की बैठक में भाग लेने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने प्रेस कांफ्रेंस कर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. CM सोरेन ने कहा की प्रधानमंत्री के सामने अपनी समस्या रखने का मौका जिन राज्यों को मिला उनमें हमारा नाम नहीं था. इसलिए कल ही पत्र के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री मोदी को राज्य की स्थिति से अवगत करवा दिया गया है. लॉक डाउन होने की वजह से राज्य की एक बड़ी आबादी देश के अन्य राज्यों में फंसी है उन्हें वापस लाने में केंद्र सरकार हमारी मदद करे.

कोटा में फंसे छात्रों और अन्य राज्यों में बड़ी संख्या में फंसे मजदूरो को वापस लाने की बात पर हेमंत सोरेन ने कहा की गृह मंत्रालय को हमने अवगत करवा दिया है उनके आदेश का इंतज़ार है. मुख्यमंत्री ने कहा की पांच हज़ार से अधिक छात्र कोटा सहित देश के अन्य राज्य में लॉकडाउन की वजह से फंसे है. गृह मंत्रालय के द्वारा जारी गाइड लाइन का हमने उल्लंघन नहीं किया है जबकि कई ऐसे राज्य है जो नियमो की अनदेखी कर अपने लोगो की घर वापसी करवा रहा है.

Also Read: झारखण्ड में कोरोना पॉजिटिव के 8 नए मरीज मिले, 91 हुई संक्रमितो की संख्या

आगे उन्होंने कहा की कई ऐसे राज्य है जो एक दूसरे की सहमती से अपने लोगो को वापस ला रहे है लेकिन केंद्र सरकार के द्वारा किसी भी प्रकार का स्पष्टीकरण उन्हें जारी नहीं किया गया है जिसके कारण जनमानस में ये धरना बन गयी है की केंद्र सरकार के द्वारा उन्हें अनुमति प्राप्त है तथा इस इसे देख कर हमारे राज्य के लोग भी सरकार पर सवाल खड़े कर रहे है की उन्हें वापस क्यों नहीं लाया जा रहा है. जबकि गृह मंत्रालय का सख्त निर्देश है की लॉक डाउन के दौरान कोई भी inter-state movment नहीं होगा।

हेमंत सोरेन ने प्रधानमंत्री से कहा है की गृह मंत्रालय को निर्देशित करें कि अन्य राज्यों में फंसे छात्रों और मजदूरों को वापस लाने के लिए Relaxation order निर्गत करें ताकि केंद्र सरकार के सहयोग से हम वैधानिक रूप से यह कार्यवाई कर सकें। और अपने लोगो को वापस ला सके.

Also Read: CM सोरेन ने अमित शाह से कहा, कोटा में फंसे बच्चो और अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को लाने में मदद करे सरकार

CM ने हिंदपीढ़ी के लोगो से कहा है की कोरोना का हॉटस्पॉट बना हिंदपीढ़ी अब CRPF की निगरानी में रहेगा। क्योंकि कोरोना संक्रमित लोगों की पहचान में ज्यादातर मामले हिंदपीढ़ी से जुड़े मिल रहें हैं, लॉक डाउन होने से खतरा कम होने के बजाय अधिक हुआ है। हिंदपीढ़ी वासियों से अनुरोध है वे घर से बाहर नहीं निकलें, आपस में दूरी बनाएं रखें। आपके स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ की तैनाती की जा रही है। क्षेत्र में आवाजाही निषेध रहेगा। आप सभी का सहयोग आपेक्षित है.

मालूम हो की झारखंड में अब तक 91 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हो चुकी है. 2 लोगो की मौत और 13 लोग स्वस्थ हो गए है. राज्य के तक़रीबन 12 लाख से अधिक लोग दूसरे राज्य में लॉक डाउन होने की वजह से फंसे है. बाहर फंसे लोगो को राहत देने के लिए राज्य सरकार की और 1000 की सहायता राशि 1 लाख 11 हज़ार लोगो को दी गयी है.

Leave a Reply

In The News

कोरोना से जंग जीतकर दिल्ली से लौटे झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन, CM खुद लेने पहुंचे एअरपोर्ट

कोरोना संक्रमित होने के बाद झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह वर्तमान में राज्यसभा सांसद एवं झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन कोरोना…

दुमका दौरे पर जाने की तैयारी में बाबूलाल, उपचुनाव में झामुमो को शिकस्त देने पर बनायेगे रणनीति

झारखंड के 2019 विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा में घर वापसी करने वाले राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी तकरीबन…

मानसून सत्र और विधानसभा उपचुनाव से पूर्व आज होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक

झारखंड में आगामी 18 सितंबर से विधानसभा में मानसून सत्र की शुरुआत होने वाली है साथ ही राज्य के दो…

गाड़ी में पढाई करते दिखे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो

झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो इन दिनों अपनी पढ़ाई को लेकर काफी चर्चा में है। दरअसल, ऐसा इसलिए क्योंकि…

मानसून सत्र में खाली रहेगी नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी, दलबदल मांगा गया है जवाब

झारखंड कि राजनीति में दलबदल का खेल कई सालो से चलता आ रहा है. उसी कड़ी में एक बार फिर…

विधायक अमर बोउरी का राज्य सरकार पर तंज, हेमंत सरकार का दलितों के साथ व्यवहार संतोषजनक नही

राज्य की हेमंत सरकार पर चन्दनक्यारी से बीजेपी विधायक अमर कुमार बाउरी ने बड़ा आरोप लगाया है. विधायक ने कहा…

Get notified Subscribe To The News Khazana

Follow Us

Popular Topics

Trending

Related News

जोहार 😊

Popular Searches