Scholarship Scam jharkhand

Scholarship Scam jharkhand: झारखंड में हुए छात्रवृत्ति घोटाले को टेकओवर कर सकती है CID

Shah Ahmad
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

झारखंड के धनबाद जिले में हुए अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति घोटाले की परत दर परत खुल कर अब सामने आ रही है मामले की जांच कर रहे झारखंड पुलिस से केस्को सीआईडी टेकओवर कर सकती है धनबाद जिले में अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति घोटाले को लेकर जिले के विभिन्न स्कूलों में 10 करोड़ से अधिक छात्रवृत्ति घोटाले का मामला सामने आया है जिसे लेकर अलग-अलग थानों में एफ आई आर दर्ज की गई है

Advertisement

छात्रवृत्ति घोटाले को लेकर सीआईडी भी तफ्तीश करने में जुट गई है सीआईडी के अधिकारी अब पूरे केस को अपने हिसाब से पड़ताल कर रहे हैं एक वरीय अधिकारी जो सीआईडी का हिस्सा है उनका कहना है कि सारे मामले की समीक्षा करने के बाद ही केस को टेकओवर किया जा सकता है लेकिन यह साफ है कि जिस पैमाने पर घोटाला हुआ है उसमें कल्याण विभाग के अधिकारी उसके कर्मचारी एवं स्कूल संचालक और अंतर राज्य गिरोह के लोग शामिल हैं शुरुआती पड़ताल में पता चला है कि सरगना चतरा जिले के हैं लेकिन उसके कई सदस्यों ने धनबाद को भी अपना ठिकाना बना रखा था

Also Read: NTPC बरवाडीह माइंस पर भारी पुलिस बल तैनात कर शुरू हुआ खनन कार्य, अंबा प्रसाद ने दिया धरना

एजेंटों के माध्यम से घोटाले को दिया जाता था अंजाम:

दरअसल इस पूरे घोटाले को एजेंटों के माध्यम से अंजाम दिया जाता था इस सरगना के मुख्य लोग एजेंटों के माध्यम से राज्य के विभिन्न स्कूलों से संपर्क कर घोटाले को अंजाम देने की रूपरेखा तैयार करते थे इस घोटाले में कुछ स्थानीय दलालों के भी शामिल होने की बात सामने आ रही है बीते सप्ताह में राज्य छात्रवृत्ति घोटाले में कल्याण विभाग के एक क्लर्क कंप्यूटर ऑपरेटर समेत दो अन्य लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है तो वही धनबाद जिले के 96 स्कूलों के प्राचार्य और संचालकों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद जांच स्वतंत्र एजेंसी से कराने की अनुशंसा की गई थी प्रारंभिक जांच में ही घोटाले पकड़ में आए हैं.

Also Read: कांग्रेस मुख्यालय में विधायक अंबा प्रसाद का धरना, मंत्री आलमगीर आलम के आश्वासन के बाद धरनें से उठी

घोटाला सिर्फ धनबाद जिले के अंतर्गत ही नहीं हुआ है बल्कि गढ़वा जिले में भी छात्रवृत्ति घोटाले का मामला सामने आ रहा है वह भी कई लोग एजेंटों के माध्यम से अल्पसंख्यक छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति को हजम कर गए हैं

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches