Skip to content
Hemant Soren

लाह इंस्टीट्यूट के जरिये रोजगार देने की तैयारी में CM हेमंत, बना रहे मास्टरप्लान

News Desk

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पुरे फॉर्म में है. राज्य वापस लौट रहे प्रवासी मजदूरों को राज्य में ही कैसे रोजगार दिए जाये इसपर अपनी रणनीति तैयार करने में जुट गए है. कुछ दिनों पहले ही मुख़्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 3 बड़ी योजनाओं की शुरुआत की है. जिससे की गाँव में रहने वाले मजदूरों को बड़ी मात्रा में रोजगार मिल सके उसे देखते हुए योजनाओं को शुरू किया गया है.

Advertisement

Also Read: निजी क्लिनिक और अस्पतालो को झारखंड सरकार की सख्त हिदायत, इलाज न करने पर होगी कार्रवाई

झारखंड सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार मुहैया कराने के उद्देश्य से सोमवार को तीन योजनाओं की शुरुआत की है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा तैयार बिरसा हरित ग्राम योजना, नीलांबर-पीतांबर जल समृद्धि योजना और वीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना की शुरुआत की है

Also Read: झारखण्ड लौट रहे मजदूरों के लिए CM हेमंत सोरेन ने 3 योजनाओं की शुरुआत की है, जानिए क्या खास

मंगलवार को CM सोरेन नामकुम स्थित लाह रिसर्च इंस्टीट्यूट पहुँचे और वहाँ हो रहे कार्यो का जायजा लिया। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन होने की वजह से राज्य की अर्थव्यवस्था चरमरा गयी है जिसे पटरी पर लाने की कवायद शुरू हो चुकी है साथ ही बाहर से आ रहे लोगो को रोजगार देने पर भी मंथन शुरू हो चूका है.

Also Read: क्या आपको भी नहीं मिल रहे जनधन खाते में 500 रूपये, बंद खाते को ऐसे करे एक्टिव

लाह रिसर्च इंस्टीट्यूट पहुँच कर हेमंत सोरेन ने लाह से बनने वाले समानो सहित अन्य चीज़ो की पूरी जानकारी ली की कैसे लाह के जरिये लोगो को रोजगार दिया जा सके. लाह के जरिये रोजगार के कौन से अवसर दिए जा सकते है इसपर चिंतन-मंथन का दौर जारी है. साथ ही सीएम झारखण्ड के उन सभी जगहों की जानकारी जुटा रहे है जहाँ से रोजगार के अन्य अवसर प्राप्त हो सके और ज्यादा से ज्यादा लोगो को राज्य में ही रोजगार दिया जा सके ताकि उन्हें राज्य से बाहर न जाना पड़े.

Also Read: शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो बोले, सरकारी विद्यालयों के बच्चो की ऑनलाइन पढाई केबल टीवी के जरिये होगी।

राज्य के मुखिया सोरेन का मानना है की ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर अगर हम अपने राज्य में पैदा करेंगे तो राज्य के मजदूर जो बड़ी संख्या में दुसरे राज्य जा कर काम करते है उन्हें घर में रोजगार मिल पायेगा। इसके साथ ही हम पलायन को रोक पाने में सक्षम होंगे। इस महामारी के समय ज्यादा से ज्यादा लोगो को रोजगार कैसे दिया जाये हम इसपर काम कर रहे है.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches