Skip to content
Hemant Soren

सीएम हेमंत ने कहा, अपने पैरो पर खड़ा होगा झारखंड, संक्रमण से बाहर निकालने और मजूदरों के डर को दूर करने की कोशिश जारी है।

tnkstaff

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर एक रुपये के लिए केंद्र की ओर टकटकी लगानी पड़ती है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यहां के लोग अपने पैरों पर खड़े हो सकते हैं। उन्होंने रोजगार सृजन के लिए पढ़े-लिखे लोग से आगे आने की भी अपील की। कहा, नौकरी के साथ-साथ आधारभूत संरचना पर भी ध्यान देना है। संक्रमण से बाहर निकालने और मजूदरों के डर को दूर करने की कोशिश जारी है।

Advertisement

Also Read: शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का बड़ा बयान, मैट्रिक एवं इंटर के टॉपरों को मिलेगी ALTO कार

उन्होंने एक बार फिर हर गरीब व मजदूर को रोजगार देने की बात दोहराई। कहा, सरकार इस बाबत होमवर्क कर रही है। बहुत जल्द नतीजे पर पहुंचेंगे। संसाधन जुटाने पर हमारा जोर है। वे बुधवार की शाम प्रोजेक्ट भवन सचिवालय में मीडिया से बात कर रहे थे। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विश्वास जताया है कि झारखंड के लोग और झारखंड शीघ्र ही अपने पैरों पर खड़ा होगा।

Also Read: प्रवासियों के आने से बदल गए हालात, झारखंड में आधे से अधिक कोरोना के मरीज है प्रवासी

प्रवासी श्रमिकों की वापसी पर कहा कि अंडमान से प्रवासी मजदृूरों को लाने के लिए दो फ्लाइट की जरुरत पड़ेगी, उसकी तैयारी चल रही है। लद्दाख में फंसे लोग बार्डर रोड आर्गनाइजेशन के साथ काम कर रहे थे। इन्हें वापस लाया जाएगा। इसके लिए वहां के डीजी से बात हुई है। उन्होंने कहा कि जितना संभव हो सके प्रवासी मजूदरों को सुरक्षा देंगे, उन्हें सुरक्षित और सही सलामत पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारी है। जो छूट रहें हैं उन्हें भी हम लाएंगे।

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches