hemant soren

CM हेमंत सोरेन ने कोडरमा से मेघातरी तक सड़क के मरम्मती का दिया निर्देश, 20 करोड़ होगा खर्च

Arti Agarwal
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

hemant soren: मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में झारखंड मंत्रालय में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) एवं राष्ट्रीय उच्च पथ की परियोजनाओं की समीक्षा हुई। मुख्यमंत्री के समक्ष सचिव पथ निर्माण विभाग सुनील कुमार ने राज्य के राष्ट्रीय राजमार्गों के संबंध में प्रस्तुति दी। बैठक में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के पूर्ण परियोजनाओं, निर्माणाधीन परियोजनाओं तथा डीपीआर के अंतर्गत आने वाले योजनाओं की जानकारी दी गई।

Advertisement

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने निर्देश दिया कि सभी निर्माणाधीन योजनाओं को निर्धारित अवधि में पूर्ण किया जाए एवं डीपीआर स्टेज में जो कार्य हैं उन्हें शीघ्र पूरा कर निविदा की प्रक्रिया को 6 महीने के अंदर पूर्ण किया जाए ताकि इन योजनाओं में कार्य प्रारंभ हो सके। एनएच की वैसे ही सड़कें जो पथ निर्माण विभाग के अधीन हैं उनकी मरम्मत एवं निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करने का निर्देश मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों को दिया। मुख्यमंत्री ने ज्यादा से ज्यादा डीपीआर तैयार कर स्वीकृति हेतु भारत सरकार को भेजे जाने का निर्देश भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एवं पथ निर्माण विभाग से संबंधित पदाधिकारियों को दिया।

Also Read: अप्रैल में होने वाली जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा कक्ष 6 को किया गया स्थगित, इस दिन होगी परीक्षा

बैठक में बताया गया कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 75 के कुरू से विंढमगंज (झारखंड/यूपी सीमा) तक के सड़क के मरम्मतिकरण हेतु 52 करोड़ रुपये की स्वीकृति भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के द्वारा दी गई है। जबकि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 के कोडरमा से मेघातरी तक के सड़क के मरम्मतिकरण हेतु 20 करोड़ रुपये की स्वीकृति भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के द्वारा दी गई है।

इन पांच कॉरिडोर की जानकारी बैठक में रखी गई:

▪️भारतमाला परियोजना अंतर्गत रायपुर धनबाद इकनॉमिक कॉरिडोर।
▪️ भारतमाला परियोजना अंतर्गत संबलपुर रांची इकनॉमिक कॉरिडोर।
▪️ भारतमाला परियोजना अंतर्गत वाराणसी रांची इकोनामिक कॉरिडोर
▪️ भारतमाला परियोजना अंतर्गत रांची पारादीप इकोनामिक कॉरिडोर।
▪️ भारतमाला परियोजना अंतर्गत बख्तियारपुर ओरमांझी इकोनामिक कॉरिडोर।

सड़क निर्माण कार्य में एलीफेंट कोरिडोर का भी रखें ध्यान:

मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों से कहा कि राज्य में बहुत ऐसे क्षेत्र है जो एलीफेंट कॉरिडोर के रूप में चिन्हित है। एलिफेंट कॉरिडोर को ध्यान में रखते हुए सड़क निर्माण कार्य करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा राज्य वनों से आच्छादित राज्य है। यहां पर जीव जंतुओं के लिए अनुकूल वातावरण है। हमसभी को इन सभी चीजों को देखते हुए आगे बढ़ना है।

सभी सड़कों के किनारे वृक्षारोपण करें:

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने एनएचएआई एवं पथ निर्माण विभाग के पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि राज्य में जितने भी सड़क निर्माण कार्य प्रगति पर हैं वैसे सड़कों में वृक्षारोपण अवश्य करें।

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches