Skip to content
Advertisement

Hemant Soren: ग्रामीण क्षेत्रों में प्रज्ञा केन्द्रों की संख्या बढ़ाने व कार्यप्रणाली में सुधार करने के आदेश

News Desk

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर कई महत्वपूर्ण आदेश दिए है साथ ही जिन विभागों में लापरवाही बरती जा रही है उन्हें फटकार भी लगाया है. सीएम हेमंत सोरेन ग्रामीण व्यवस्था को मजबूत करने की कोशिश कर रहे है ताकि शहरों के बराबर ला कर खड़ा किया जा सके.

शुक्रवार की समीक्षा बैठक के दौरान सीएम ने ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत चल रही योजनाओं की जानकारी ली साथ ही अधिकारियों को कई निर्देश भी दिए है.  मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जिलों के उपायुक्त ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक संख्या में प्रज्ञा केंद्र स्थापित करना सुनिश्चित करें। सभी गांवों में प्रज्ञा केंद्र संचालित करें।

इसे भी पढ़े- JSSC Vacancy 2023: JSSC ने उत्पाद विभाग में फिर निकाली भर्ती, 10वीं पास कर सकते है आवेदन

मुख्यमंत्री ने कहा कि सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों से लोगों को छोटे-छोटे कार्यों के लिए प्रखंड कार्यालय का चक्कर न लगाना पड़े इस सोच के साथ प्रज्ञा केंद्रों को पूर्णरूपेण कार्यरत करें। आम जनता को जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, नया आधार कार्ड बनाना तथा आधार कार्ड में भूल सुधार आदि कार्य उनके निकटतम प्रज्ञा केंद्र में ही ससमय उपलब्ध कराया जा सके इस लक्ष्य के साथ कार्य करें।

सीएम Hemant Soren का अधिकारियों को निर्देश, 3 महीने में प्रज्ञा केन्द्रों की कार्यप्रणाली में सुधार हो

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अगले 3 महीने के अंदर राज्य के सभी प्रज्ञा केंद्रों में बिजली, पानी, जनरेटर, इंटरनेट कनेक्टिविटी एवं सिक्योरिटी सहित अन्य जरूरी सुविधा हर हाल में उपलब्ध करायी जाए। सभी प्रज्ञा केंद्रों के कार्यप्रणाली में सुधार हो यह सुनिश्चित करें।

Advertisement
Hemant Soren: ग्रामीण क्षेत्रों में प्रज्ञा केन्द्रों की संख्या बढ़ाने व कार्यप्रणाली में सुधार करने के आदेश 1