school

आठवीं में फेल छात्रों को नहीं देनी होगी परीक्षा, ग्रेस मार्क से होगे पास- CM ने प्रस्ताव को दी मंजूरी

amarsid
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

बुधवार 4 नवंबर को झारखंड मंत्रालय में हुए बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कोरोला काल के दौरान हुए आठवीं बोर्ड की परीक्षा में अनुत्तीर्ण छात्रों को 20% ग्रेस मार्क्स देकर पास करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. फेल छात्र छात्राओं के लिए अब कोई भी विशेष परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी.

Advertisement

झारखंड एकेडमिक काउंसिल के द्वारा कक्षा आठवीं के विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षा दी जाती है जिसमें 250 अंकों का प्रश्न पूछा जाता है विद्यार्थियों को 33% यानी 83 नंबर लाने होते हैं जिसके बाद वह उत्तरी की श्रेणी में शामिल हो जाते हैं इसबार आठवीं बोर्ड की परीक्षा में 5 लाख 3 हजार 862 छात्र-छात्राएं शामिल हुए थे जिनमें से 4 लाख 61 हजार 538 विद्यार्थी पास हुए वहीं 42 हजार 324 विद्यार्थी फेल हो गये. झारखंड एकेडमी काउंसिल की तरफ से कहा गया था कि जो विद्यार्थी फेल हो गए हैं उनके लिए एक विशेष परीक्षा आयोजित की जा सकती है परंतु कोरोना महामारी से बचाव के लिए और परीक्षा के दौरान आठवीं बोर्ड के विद्यार्थियों को इसी प्रकार का कोई भी नुकसान ना हो साथ ही उनकी सुरक्षा को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 20% ग्रेस मार्क्स देकर उन्हें पास करने के प्रस्ताव को स्वीकृति देते हुए इस पर मुहर लगा दी

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches