फुरकान अंसारी ने आरपीएन सिंह को बताया सौदेबाज, कहा पैसे के भूखे है झारखण्ड कांग्रेस प्रभारी

Shah Ahmad
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह झारखण्ड कांग्रेस के प्रभारी है. इनकी देख-रेख में ही फ़िलहाल झारखण्ड कांग्रेस चल रही है. लोकसभा के बाद राज्यसभा में टिकट नहीं मिलने के बाद पूर्व सांसद डॉ फुरकान अंसारी ने आरपीएन के खिलाफ बगावती तेवर को तेज कर दिया है.

Also Read: स्थाईकरण को ले 17 मार्च को मुख्यमंत्री आवास घेरेंगे ई-मैनेजर्स एसोसिएशन

लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने गठबंधन के तहत चुनाव लड़ा था. जिसमे कांग्रेस सबसे ज्यादा सीटों पर चुनावी मैदान में उतरी थी. इस गठबंधन में कांग्रेस, झामुमो, राजद और बाबूलाल की पार्टी झाविमो थी जिसका विलय अब भाजपा में हो चूका है. फुरकान अंसारी गोड्डा सीट से सांसद रह चुके है ऐसे में उनकी दावेदारी सबसे मजबूत थी लेकिन गठबंधन होने से ये सीट झाविमो के खाते में चली गयी और फुरकान अंसारी का टिकट काट प्रदीप यादव को चुनावी मैदान में उतारा गया.

Also Read: कोरोना वायरस से बचाओ के लिए बाबूलाल ने की विद्यालय और कॉलेज बंद करने की मांग

लोकसभा चुनाव में जब फुरकान अंसारी को टिकट नहीं मिला तो कांग्रेस पार्टी की तरफ से दलील दी गयी की राजयसभा चुनाव में अल्पसंख्यक समुदाय से प्रतिनिधि भेजा जाएगा। उस वक़्त सबको लगा की फुरकान अंसारी को अब राज्यसभा जाने की तैयारी करनी चाहिए लेकिन जब राज्यसभा चुनाव की बरी आयी तो सभी नेता फुरकान अंसारी के नाम से परहेज करने लगे. और कांग्रेस ने राज्यसभा के अपने कोटे से शहज़ादा अनवर को टिकट दिया तो वही महागठबंधन की और से दूसरी सीट पर झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन राज्यसभा के लिए मैदान में है.

Also Read: कांग्रेस ने शहज़ाद अनवर पर लगाया दाव, फुरकान अंसारी को नहीं मिला राज्यसभा टिकट

डॉ फुरकान अंसारी ने झारखण्ड प्रभारी आरपीएन सिंह पर आरोप लगते हुए कहा है की आरपीएन धोखेबाज इंसान है और पैसे की लालच में कुछ भी कर सकते है. गुरुवार को प्रत्याशी की घोषणा के साथ ही उन्होंने कहा कि आरपीएन दो नंबर के आदमी हैं और प्रदेश में कांग्रेस को बेचने का काम कर रहे हैं। उन्होंने साफ कहा कि झारखंड को उन्होंने पैसे कमाने का अड्डा बना लिया है। शहजादा से कोई नाराजगी नहीं है, लेकिन कोई पार्टी को अपनी जागीर समझे तो हमारे जैसे पुराने कांग्रेसी बर्दाश्त नहीं करेंगे। फुरकान अंसारी ने ये भी कहा की झारखण्ड में महागठबंधन को जो जीत मिली है उसमे आरपीएन का कोई हाथ नहीं है. रघुवर दास की विफलता और हेमंत सोरेन की वजह से इतनी सीट आयी है.

Leave a Reply

In The News

BJP का राज्य सरकार पर हमला, सोरेन के CM बनने के बाद अपराधिक घटनाएं बढ़ी

झारखंड बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर गंभीर आरोप लगाए हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा…

मां छिन्नमस्तिके के दरबार पहुँचे कृषि मंत्री, शिक्षा मंत्री के बेहतर स्वास्थ्य के लिए किया गया पूजा अर्चना

झारखंड में 8 अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों को शर्तो के साथ खोल दिया गया है जिसके बाद झारखंड के…

लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर आज हाईकोर्ट में होगी सुनवाई, चारा घोटाला मामले में दोषी है लालू यादव

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता है स्वास्थ्य कारणों की वजह…

भीमा कोरेगांव मामले में NIA ने सामाजिक कार्यकर्ता फादर स्टेन स्वामी को हिरासत में लेकर कर रही है पूछताछ

मुंबई के पुणे में वर्ष 2018 के जनवरी महीने में भीमा कोरेगांव में एक हिंसा भड़की थी हिंसा भड़काने के…

दिवंगत मंत्री हाजी हुसैन के अंतिम दर्शन करने पहुंचे CM सोरेन, पुष्प अर्पित कर दी श्रद्धांजलि

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी जी के मधुपुर स्थित पैतृक गांव पिपरा में उनके…

झारखंड में कल रहेगी सरकारी छुट्टी, कल होने वाली कई परीक्षाएँ भी की गई रद्द

झारखंड सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हाजी हुसैन अंसारी का शनिवार को रांची के मेदांता अस्पताल में निधन हो…

जोहार 😊

Popular Searches