epass jharkhand

E-pass Jharkhand: झारखंड में ई-पास का नियम समाप्त करने की तैयारी में सरकार, जल्द हो सकता है बड़ा ऐलान

Shah Ahmad
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

E-pass Jharkhand: झारखंड में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण की दर को रोकने के लिए राज्य सरकार की तरफ से बीते अप्रैल महीने की 22 तारीख से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह मनाने को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए गए थे. इस कार्यक्रम के तहत संक्रमण की चेन को तोड़ने का लगातार प्रयास किया गया जो सफल भी रहा है. वर्तमान में झारखंड में कोरोना संक्रमण कि दर एक फ़ीसदी पर पहुंच गई है. जितनी तेजी से संक्रमण फैल रहा था उतनी ही तेजी से यह कम भी हुआ है.

Advertisement

झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह यानी मिनी लॉकडाउन 3 जून को समाप्त हो जाएगा. ऐसे में सरकार जनता को लागू किए गए दिशा-निर्देशों में कई छूट दे सकती है. इसके साथ ही सरकार ई-पास की व्यवस्था समाप्त कर देगी परंतु लोगों को संक्रमण की तीसरी लहर को देखते हुए स्वयं से एहतियात बरतना होगा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 1 जून को लॉकडाउन में ढिलाई के साथ ही ई-पास सिस्टम हटाने पर बड़ा ऐलान कर सकते हैं. झारखंड में लॉकडाउन की पाबंदियां 3 जून सुबह 6:00 बजे तक प्रभावी है. हालांकि कोरोना संक्रमण पर लगभग काबू पा लिया गया है ऐसे में सरकार लॉकडाउन हटाने के साथ ही आम जनमानस को ढिलाई देने पर मंथन कर रही है.

Also Read: झारखंड के लिए राहत भरी खबर, एक फीसदी पर पहुंची कोरोना संक्रमण की दर

लॉकडाउन में बड़ी राहत के साथ सरकार ने ई-पास की अनिवार्यता वापस लेने का मन बना लिया है. हालांकि मांगे जाने पर आपको अपना पहचान पत्र दिखाना जरूरी होगा ई-पास से छूट पाने के लिए संस्थान का पहचान पत्र, रेलवे एयरपोर्ट से आने जाने वाले यात्रियों को यात्री टिकट, परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र, मरीजों को डॉक्टर का पर्चा टीका लेने वाले कागजात या फिर डॉक्टरी जांच कराने से संबंधित कागजात दिखाए जा सकते हैं. 

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches