Skip to content
Advertisement

Hazaribag News: असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखते हुए उनके विरुद्ध त्वरित कार्रवाई करना सुनिश्चित करें: आयुक्त

Hazaribag: आयुक्त उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल हजारीबाग चंद्र किशोर उरांव की अध्यक्षता में आगामी रामनवमी पर्व के अवसर पर विधि व्यवस्था संबंधित आहूत समीक्षात्मक बैठक आयुक्त के सभागार कक्ष में बुधवार को संपन्न हुई। बैठक के दौरान आयुक्त ने जुलूस का रूट लाइन, रूट लाइन का मुख्य पड़ाव बिंदु, लोकेशन के साथ प्रतिनियुक्त बल एवं दंडाधिकारी की संख्या, हजारीबाग से बाहर के पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति का स्टेटस, रूट लाइन के अतिरिक्त भवनों एवं अन्य स्थानों पर प्रतिनियुक्त बल एवं दंडाधिकारी की स्थिति, जुलूस में शामिल होने वाले कुल अखाड़ों की संख्या, संग अन्य मामलों की जानकारी उपस्थित अधिकारियों से हासिल कर संबंधित आदेश दिए।

Hazaribag उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक ने आयुक्त एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक को रामनवमी पर्व शांतिपूर्ण संपन्न कराने हेतु किए जा रहे तैयारियों से अवगत कराया। बताया कि पर्व शांतिपूर्ण संपन्न हो, इसके लिए व्यापक तैयारी की जा रही है। संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील स्थानों पर विशेष निगरानी रखी जायेगी। गड़बड़ी की संभावना वाले स्थानों पर बैरिकेडिंग भी की गई है। पुलिस बल एवं दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है। पर्व को लेकर जिला क्षेत्र में विशेष चौकसी की जा रही है। हरेक गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है, ताकि शांति व्यवस्था बनी रहे।

उरांव ने कहा हजारीबाग की रामनवमी को इंटरनेशनल कहा जाता है जहां एक लाख से भी अधिक लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है। इस दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने व किसी भी प्रकार की आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन को सक्रिय रहने की सख्त जरूरत है। अतः आयुक्त ने पुलिस अधीक्षक हजारीबाग को प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं अन्य वरीय पदाधिकारी को एक्टिव रहकर जुलूस में शामिल लोगों की हरेक गतिविधियों पर सुक्ष्मता से नजर रखने के निर्देश दिए। जिससे चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था से पर्व शांतिपूर्ण संपन्न कराने में मदद मिलेगी। साथ ही पुलिस पदाधिकारी एवं दंडाधिकारी अखाड़े से संबंधित सदस्यों एवं शांति समिति के सदस्यों के साथ समन्वय रखें और असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखते हुए उनके विरुद्ध त्वरित कार्रवाई करना सुनिश्चित करें।

Advertisement
Hazaribag News: असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखते हुए उनके विरुद्ध त्वरित कार्रवाई करना सुनिश्चित करें: आयुक्त 1