Skip to content
Advertisement

Hazaribagh Barhi: बरही में बवाल, पुलिस हिरासत में गई युवक की जान, SP ने किया सस्पेंड

zabazshoaib

Hazaribagh Barhi: पुलिस हिरासत में चोरी के आरोपी युवक अशफाक खान की मौत के बाद मंगलवार को ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। ग्रामीणों ने बरही-धनबाद रोड को ढाई घंटे तक जाम रखा। हजारीबाग के एसपी चोथे मनोज रतन ने ऑन डॺूटी रहे निरंजन कुमार के साथ दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। एसपी ने मामले की सीआईडी जांच की अनुशंसा की है।

पुलिस युवक को मंगलवार को इलाज के लिए बरही अनुमंडलीय अस्पताल लेकर आई थी। वहां उसकी मौत हो गई। उसकी मौत की खबर फैलते ही आक्रोशित परिजन और सैकड़ों ग्रामीणों ने धनबाद रोड में अनुमंडलीय अस्पताल के गेट के सामने ओल्ड जीटी रोड पर मृतक के शव को रख कर सड़क जाम की। मरने वाला युवक मंजर खान उर्फ अशफाक खान (25) बरही थाना की कोनरा पंचायत के हुसैन नगर निवासी मो. आबिद खान का पुत्र था। बताया जाता है कि सोमवार की शाम बरही के कृष्णापुरी में एक घर में उसे चोरी की कोशिश करते ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ लिया था। ग्रामीणों ने इसकी सूचना बरही पुलिस को दी। युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। मंगलवार सुबह करीब 11 बजे बरही पुलिस अशफाक को इलाज के लिए बरही अनुमंडलीय अस्पताल लेकर आई जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मृतक के परिजन एवं आसपास के ग्रामीणों को जब इसकी जानकारी मिली तो आक्रोशित लोगों ने शव के साथ ओल्ड जीटी रोड को मंगलवार को करीब 11.30 बजे जाम कर दिया। मृतक के परिजन और आक्रोशित ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस की मारपीट के कारण युवक की मौत हुई है। मृतक के पिता ने यह भी बताया कि जिस घर में चोरी हुई थी उस घर के भी कुछ लोगों ने अशफाक के साथ मारपीट की थी। उनके पुत्र को चोरी के झूठे आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उनका पुत्र लगातार बता रहा था कि उसने चोरी नहीं की।

घटना की जानकारी मिलने पर सड़क जाम कर धरना प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों के बीच बरही विधायक उमाशंकर अकेला पहुंचे। विधायक और पुलिस अधिकारियों ने परिजनों से वार्ता करने के बाद करीब 2.30 बजे जाम हटा लिया। मृतक के परिजनों ने परिवार के व्यक्ति को सरकारी नौकरी, 50 लाख नगद मुआवजा और घटना में शामिल दोषी पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

एसपी चोथे मनोज रतन ने कहा कि पुलिस ने अशफाक खान को पकड़ने के बाद हाजत में रखा था। उसे मेडिकल जांच के लिए ले जाना था। अधिकारी जब उसे ले जाने के लिए हाजत में गए तो वह मूर्छित अवस्था में था। उसे तुरंत अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। यह मौत पुलिस कस्टडी में हुई है। एनएचआरसी गाइडलाइन के हिसाब से जांच की जाएगी। इसमें जो भी केस दर्ज होगा उसे सीधा सीआईडी को अनुसंधान के लिए भेज दिया जाएगा।

जो भी पदाधिकारी इसमें शामिल होंगे उन्हें निलम्बित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है।

परिजनों को न्याय दिलाएंगे विधायक

विधायक उमाशंकर अकेला ने कहा कि वह मृतक के परिजनों की मुलाकात सीएम से कराकर उन्हें न्याय दिलायेंगे। परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी के लिए भी सीएम से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि इस घटना पर एसपी मनोज रतन से फोन पर बात हुई है। दोषी पुलिसकर्मियों पर अविलंब कार्रवाई की जाएगी।

Also read: Hazaribag News: विधायक अमित कुमार यादव ने पेवर ब्लॉक पथ निर्माण कार्य का किया शिलान्यास

Advertisement
Hazaribagh Barhi: बरही में बवाल, पुलिस हिरासत में गई युवक की जान, SP ने किया सस्पेंड 1