Skip to content
Advertisement

Hazaribagh: विधायक मनीष जयसवाल ने कुर्ता खोलकर किया विरोध, सरकार से जवाब नहीं मिलने से थे नाराज़

Hazaribagh: जिले के सदर विधानसभा से भाजपा विधायक मनीष जयसवाल ने हजारीबाग में रामनवमी जुलूस में डीजे की अनुमति नहीं दिए जाने का लगातार विरोध कर रहे हैं।

मंगलवार को भी उन्होनें इस मामले को उठाया और सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं आने पर स्पीकर के आसन में समक्ष कुर्ता खोलकर विरोध दर्ज किया। इससे पहले उन्होनें कहा कि सदन में विपक्ष के सवालों का जवाब महीन मिल रहा है।

नियोजन पर विरोध किया तो कार्यमंत्रणा समिति में यह बात आई कि इस मामले पर मुख्यमंत्री जवाब देंगे। अबतक नहीं आया। लगातार हमलोग रामनवमी के मामला उठा रहे हैं। हजारीबाग में 5 हजार लोगों पर प्रशासन ने 107 का मुकदमा दायर कर दिया है। पुलिस डरा रही है। डीजे वाले को धमकी दी जा रही है। कहा जा रहा है कि डीजे दिए तो ठीक नहीं होगा।

Hazaribagh: हिन्दू होना गुनाह है तो सरकार बताए, निर्दोषों पर दर्ज हो रहे है मुकदमें

विधायक ने कहा कि ऐसा लगता है झारखंड में हिन्दू होना गुनाह है। क्या हमलोग तालिबान में रहते हैं। मंत्री जी उठकर कह दे कि हमलोग तालिबान में रहते हैं तो सरकार जैसे रखेगी रहेंगे। निर्दोष पर दायर मुकदमें वापस लिया जाय। कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का आदेश है कि डीजे बज सकता है फिर प्रशासन जानबूझकर रोक क्यों लगा रही है। जब इसपर सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं आया तो उन्होनें स्पीकर के आसन के सामने कुर्ता खोलकर विरोध किया।

इसे भी पढ़े- Jharkhand: हाईकोर्ट ने मसानजोर बांध के जल बंटवारे के मुद्दे पर बंगाल सरकार को नोटिस दिया है

Advertisement
Hazaribagh: विधायक मनीष जयसवाल ने कुर्ता खोलकर किया विरोध, सरकार से जवाब नहीं मिलने से थे नाराज़ 1