Skip to content

लालू यादव के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले को लेकर हुई सुनवाई, हाईकोर्ट में स्वास्थ्य रिपोर्ट पेश नहीं होने पर अदालत ने जताई नाराजगी

Arti Agarwal

राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला मामले में रांची के होटवार जेल में सजायाफ्ता है. लालू यादव की तबीयत खराब रहने के कारण उन्हें रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया है जहां भी लंबे समय से भर्ती हैं.

कोरोनावायरस संक्रमण के फैलाव को देखते हुए उन्हें रिम्स अस्पताल से शिफ्ट करके रिम्स के निदेशक के बंगले में रखा गया था. इस बीच बिहार विधानसभा का चुनाव हुआ चुनाव के बाद राज्यसभा चुनाव के वक्त बिहार बीजेपी के विधायक ने यह आरोप लगाया था कि लालू प्रसाद यादव फोन करके उन्हें अपनी पसंदीदा उम्मीदवार की तरफ वोट करने को कह रहे हैं. जिसके बाद जेल मैनुअल उल्लंघन का मामला आग की तरह फैल गया. मामला बढ़ता देख रिम्स प्रबंधन ने उन्हें रिम्स निदेशक के बंगले से वापस रिम्स अस्पताल बुलवा लिया जिस पर हाईकोर्ट में सुनवाई हो रही है.

बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले पर सुनवाई करते हुए झारखंड हाई कोर्ट काफी नाराजगी जाहिर की है. जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत ने मामले में सभी पक्षों को सुनने के बाद और सरकार के जवाब को देखने के बाद लालू यादव के स्वास्थ्य रिपोर्ट अदालत में पेश नहीं होने के कारण कड़ी नाराजगी जताई है. अदालत ने रिम्स को स्वास्थ्य रिपोर्ट के साथ यह भी बताने को कहा है कि क्यों नहीं समय से स्वास्थ्य रिपोर्ट अदालत में पेश की गई है? अब मामले की अगली सुनवाई 19 फरवरी को होगी.

Leave a Reply