Skip to content

हेमंत सरकार ने 38 वर्षो से बंद धनबाद सदर अस्पताल को दी मान्यता, जल्द शुरू होगी नियुक्ति की प्रक्रिया

Arti Agarwal
Advertisement
Advertisement
Advertisement
हेमंत सरकार ने 38 वर्षो से बंद धनबाद सदर अस्पताल को दी मान्यता, जल्द शुरू होगी नियुक्ति की प्रक्रिया 1

झारखंड की हेमंत सरकार ने कोयलानगरी धनबाद के सदर अस्पताल को मान्यता दे दी है. इसे लेकर राज्य के स्वास्थ्य सचिव ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सिविल सर्जन डॉ गोपाल प्रसाद को जानकारी दी है. इस संबंध में अधिसूचना हो चुकी है.

झारखंड सरकार के द्वारा धनबाद के सदर अस्पताल को मान्यता देने के बाद जल्द ही सरकारी स्तर से डॉक्टर और कर्मचारियों के नियुक्ति की जाएगी. फरवरी में डॉक्टरों की नियुक्ति की संभावना जताई गई है. धनबाद का सदर अस्पताल पिछले 38 वर्षों से बंद है इसके दोबारा शुरू होने से मरीजों को बेहतर इलाज का विकल्प मिल सकेगा. सदर अस्पताल में सर्जरी, मेडिसिन, गायनी, शिशु, हड्डी, आई का ओपीडी चलेगा और मरीजों को भर्ती लिया जाएगा. सदर अस्पताल शुरू होने से मेडिकल कॉलेज को भी कई फायदे होंगे वहीं मरीजों का दबाव भी कब होगा.

प्रखंड स्तर पर चलने वाले स्वास्थ्य केंद्रों के द्वारा रेफर किए गए मरीजों को पहले सदर अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा. विशेष परिस्थितियों में ही मरीज को सदर अस्पताल से मेडिकल कॉलेज भेजा जाएगा. जिससे मेडिकल कॉलेज में मरीजों को विशेष चिकित्सा मिल पाएगी. सिविल सर्जन डॉ गोपाल दास ने कहा कि सरकार की तरफ से धनबाद सदर अस्पताल को मान्यता दे दी गई है. सचिव ने बताया कि अधिसूचना जारी हो चुकी है. इस महीने यहां डॉक्टर और कर्मचारियों के नियुक्ति होने की संभावना है. आने वाले दिनों में सदर अस्पताल पूरी तरह काम करने लगेगा, लोगों के इलाज का बेहतर विकल्प बनेगा.

Advertisement
हेमंत सरकार ने 38 वर्षो से बंद धनबाद सदर अस्पताल को दी मान्यता, जल्द शुरू होगी नियुक्ति की प्रक्रिया 2