Skip to content
hemant-soren

CM सोरेन ने अमित शाह से कहा, कोटा में फंसे बच्चो और अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को लाने में मदद करे सरकार

tnkstaff

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से फंसे मजदूरों को वापस लाने और कोरोनावायरस के नमूनो की परीक्षणों को गति देने के लिए बात किया। लॉकडाउन में ढील दी जाती है तो स्थिति से कैसे निपटना है इस विषय के लिए हेमंत सोरेन ने शनिवार और रविवार को अमित शाह के साथ वार्ता की, जिसमें नेताओं ने तीन मई के बाद महामारी से निपटने के लिए उठाए जा सकने वाले बेहतरीन कदमों पर चर्चा की.

Advertisement

Also Read: भाजपा ने पुलिस की कार्रवाई पर उठाये सवाल, पुलिस के समर्थन में लोगो ने कहा #ISupportJharkhandPolice

झारखंड के मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री से कोटा में फंसे छात्रों को लाने के लिए विशेष बसों की व्यवस्था करने का अनुरोध किया है. साथ ही उन्होंने मजदूरों को अपने घरों तक पहुंचने में सक्षम बनाने के लिए परिवहन को आसान बनाने के लिए मंत्री से सर्वोत्तम संभव विकल्पों पर गौर करने को कहा है. कोटा (राजस्थान) में विभिन्न कॉलेजों और संस्थानों में लगभग 3000 छात्र पढ़ते हैं, जो झारखंड के विभिन्न जिलों के हैं।

Also Read: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा तथ्यों को को तोड़मरोड़ कर पेश कर रहे मंत्री रामेश्वर उरांव

झामुमो नेता और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह ने सीएम से सोमवार तक इंतजार करने को कहा, क्योंकि यह मामला चार से पांच राज्यों के परमिटों को शामिल करने से संबंधित है। उन्होंने कहा कि बात सकारात्मक थी और शाह ने इस मुद्दे को हल करने के लिए हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया है.

जानकारी के अनुसार छात्रों को लाने के लिए एक टीम कोटा जाएगी। लॉकडाउन की वजह से कोटा में फंसे छात्र लगातार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से राज्य वापस लेन की मांग कर रहे है लेकिन केंद्र सरकार की अनुमति के बिना छात्रों को राज्य वापस ला पाना मुश्किल है.

Also Read: इरफ़ान अंसारी ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ दर्ज कराया मामला, कहा अविलंब गिरफ्तार किया जाए

झारखंड के मजदूर अलग-अलग राज्यों में फंसे हैं, इस बारे में सीएम ने विशेष ट्रेन चलने पर जोर दिया। गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री को बताया कि यह मामला 27 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की ऑनलाइन बैठक के दौरान सामने आ सकता है। जहाँ इस विषय पर व्यापक चर्चा के साथ निर्णय लिया जायेगा की स्थिति से कैसे निपटना है.

Also Read: कोरोना के अफवाह में परिवार का हुआ सामाजिक बहिष्कार, CM सोरेन ने कहा अफवाह पर न दे ध्यान

शनिवार को मुख्यमंत्री ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से भी विस्तार से बातचीत की। दोनों ने कोविद -19 पर चर्चा की। झारखंड के मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री को तेजी से कोरोना का परीक्षण करने के लिए किट प्रदान करने का अनुरोध किया, क्योंकि राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अबतक 82 मामले सामने आ चुके है तो 2 लोगो की मौत कोरोना की वजह से हो चुकी है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी बात की और फंसे हुए मजदूरों को निकालने के लिए दोनों राज्यों के बीच परिवहन को आसान बनाने पर चर्चा किया गया.

Source: HT

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches