Skip to content
Advertisement

Hemant Soren: सीएम ने की विकास योजनाओं की समीक्षा कहा, लोगों की समस्याओं का समय पर समाधान करें अधिकारी

Advertisement
Hemant Soren: सीएम ने की विकास योजनाओं की समीक्षा कहा, लोगों की समस्याओं का समय पर समाधान करें अधिकारी 1

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren

Advertisement
) ने कहा कि सरकार पूरी संवेदना के साथ ग्रामीणों के हित की योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए कार्य कर रही है. ये योजनाएं ग्रामीणों के बीच पहुंचे इसके लिए पदाधिकारी जिम्मेदार बन कर काम करें, उनकी उम्मीदों पर खरा उतरे. ग्रामीणों को समृद्ध करें, ताकि ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत हो सके.

मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों से कहा कि ग्रामीण यदि आपके पास आयें तो आप उनसे आत्मीय भाव और संवेदनशीलता के साथ मिलें और उनकी समस्याओं का समाधान करें. श्री सोरेन शुक्रवार को पलामू पुलिस लाइन स्टेडियम में गढ़वा एवं पलामू जिले में चल रहे विकास कार्यों और योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि यह शुरुआत है. अगले दो महीने बाद फिर से पलामू व गढ़वा जिले की प्रगति की समीक्षा की जायेगी. बैठक में मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर, बादल, रामचंद्र चंद्रवंशी, आलोक चौरसिया, कुशवाल डॉ शशिभूषण मेहता, पुष्पा देवी, रामचन्द्र सिंह, सुखदेव सिंह, राजीव अरुण एक्का, विनय कुमार चौबे, प्रशांत कुमार, अमिताभ कौशल, जटा शंकर चौधरी, राजकुमार लकड़ा समेत अन्य उपस्थित थे.

Hemant Soren: सीएम ने किया विधि व्यवस्था की समीक्षा

विधि व्यवस्था की समीक्षा के क्रम में उन्होंने निर्देशित किया कि मामलों का निष्पादन समय सीमा में किया जाये. इसके अलावा यह ध्यान रखें कि पुलिस थानों में भी आम लोगों की समस्याओं का समयबद्ध रूप से निष्पादन हो, उन्होंने कहा कि अवैध बालू एवं पत्थर के खनन के मामले पाये जाने पर सख्ती से कार्रवाई करें. मुख्यमंत्री ने नगरीय क्षेत्र के थानों के कामकाज पर नाराजगी जतायी.

Hemant Soren: जिलों में चल रही योजनाओं की हुई समीक्षा, ग्रामीण व्यवस्था को करें मजबूत

मुख्यमंत्री ने दोनों जिले में चल रही सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना, मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना, मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना, सर्वजन पेंशन योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, मनरेगा अंतर्गत मानव दिवस सृजन, प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति, रेवेन्यू कोर्ट ऑनलाइन म्यूटेशन एवं विधि व्यवस्था की गहन समीक्षा की हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण व्यवस्था की सबसे बड़ी कड़ी है पशुधन इस व्यवस्था को पुनः स्थापित करनी है, जिससे आये दिन महिलाओं में खून की कमी, बच्चों में कुपोषण आदि समस्याओं का निदान हो सके. उन्हें पौष्टिक आहार घर मे ही मिल सके. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में लोगों को पशुधन योजना का लाभ दें.

Hemant Soren: अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे योजनाओं का लाभ

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि सरकारी योजनाओ का लाभ अंतिम आदमी तक पहुंचे इसे ध्यान में रख कर आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का दूसरा चरण भी पूरे राज्य में चलाया गया. उन्होंने कहा कि पदाधिकारियों से उम्मीद की जाती है कि वे सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की भी उम्मीदों पर खरा उतरे. ऐसे में लोगों को विकास योजनाओं का फायदा पहुंचने पर मात्र सरकार की ही नहीं, पदाधिकारियों को भी वाहवाही मिलेगी.