Skip to content
Advertisement

झारखंड वालों सावधान! मास्क के बिना घरों से निकले तो जाना होगा जेल, इन जिलों में चलेगा अभियान

Arti Agarwal
Advertisement
Advertisement
Advertisement
झारखंड वालों सावधान! मास्क के बिना घरों से निकले तो जाना होगा जेल, इन जिलों में चलेगा अभियान 1

देश में कोरोना मरीज एक विकराल समस्या बन के सामने आई है कोरोना की रोकथाम के लिए सरकारों के द्वारा कई अहम कदम उठाए गए परंतु एक बार फिर बड़े शहरों में कोरोना की दूसरी लहर सामने आ चुकी है ऐसे में इतिहास के तौर पर आने वाले दिनों में झारखंड सरकार भी कई कदम उठा सकते हैं हनुमान या जताया जा रहा है कि दिसंबर महीने में झारखंड में भी कोरोनावायरस लहरा सकता है

झारखंड में कई त्यौहार समाप्त हो चुके हैं और त्योहारों में बड़ी संख्या में लोग एक दूसरे के संपर्क में आए हैं सरकार की तरफ से या योजना बनाई जा रही है कि घर घर जाकर कोरोनावायरस की जांच की जाए साथ ही धनबाद जमशेदपुर जैसे बड़े जिले नियमों को लेकर सख्त है और इन दो जिलों में विशेषकर मास्क ना पहनने वालों को खिलाफ सख्ती बरतने की तैयारी की जा रही है धनबाद जिले में सोमवार से यदि आप घरों से बिना मास्क के बाहर निकलते हैं और पुलिस की नजर में पढ़ते हैं तो आप को जेल भी जाना पड़ सकता है साथ ही भारी जुर्माना भी चुकाना पड़ सकता है

धनबाद के उपायुक्त उमाशंकर सिंह ने कहा है कि मास्क लगाना लोगों को अनिवार्य है उन्होंने कहा कि सरकार के तय मानकों के अनुरूप बिना मास्क पकड़े जाने वाले पर कार्रवाई होगी कई राज्यों में नियमों को बदला गया है लेकिन अभी तक झारखंड में या नियम नहीं बदले गए हैं तो पूर्व की तरह ही नियम पर सख्ती बरतने का निर्देश दिया गया है

वही जमशेदपुर में भी बिना मास्क के घरों से बाहर निकलने वाले लोगों पर कार्यवाही की जाएगी जमशेदपुर के कई बंद पड़े स्कूलों को अस्थाई जेल के रूप में बदल दिया गया है पीना मास्क पकड़े जाने पर 10 घंटे की अस्थाई जेल और भारी जुर्माना चुकाना पड़ सकता है