Skip to content

सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में BJP और AJSU के नेता इस कार्यक्रम में नहीं होते शामिल ! आखिर क्यूँ?

tnkstaff

आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार अभियान (Aapki Yojana Aapki Sarkar Aapke Dwar Program) के दूसरे चरण के पहले दो दिन में 2,37,447 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से 1,11,873 आवेदनों का निष्पादन कर दिया गया है। जबकि 1.25 लाख आवेदन निष्पादन की प्रक्रिया में बताए गए हैं। यह आंकड़ा गुरुवार शाम आठ बजे तक का है।

Advertisement

सबसे अधिक आवेदन झारखंड खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राशन कार्ड और सामाजिक सुरक्षा अंतर्गत पेंशन आदि के लिए प्राप्त हुए हैं। इनमें आवेदनों की संख्या 25- 25 हजार के करीब है। दूसरी ओर आजीविका और आवास से संबंधित आवेदनों की संख्या भी 20-20 हजार से अधिक मिली है। लोग पेयजल और कृषि संबंधी योजनाओं के लिए भी आवेदन कर रहे हैं।

इन सब के बिच चौकाने वाले मामलें सामने आ रहे है की भाजपा और आजसू पार्टी के विधायक, सांसद इन कार्यक्रमों से दुरी बना रहे है. जिस जनता की बदौलत वह जीत कर सदन तक पहुँचते है और हर सुख सुविधा का आनंद लेते है लेकिन जब बात जनता को हक्क और अधिकार दिलाने में सहयोग करने की होती है तो नेता पार्टी लाइन सहित अन्य कारणों का हवाला देने लगते है. भाजपा के दुलरुआ नेता बने बाबूलाल मरांडी भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ जमुआ, धनवार और बगोदर विधानसभा को लेकर चर्चा करते है लेकिन हेमंत सरकार द्वारा जनता के हित में चलाई जा रही आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार अभियान में भाग नहीं लेते है. ऐसे में सवाल यह उठता है की क्या भाजपा और आजसू के नेता सिर्फ सत्ता की मलाई खाने के लिए होते है या फिर झारखंड में जनता की सेवा करने का पूरा जिम्मेदारी महागठबंध के विधायकों, सांसदों और कार्यकर्ताओं ने अपने कंधो पर उठा रखा है.

Also Read: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने गिरिडीह जिले से “आपकी योजना-आपकी सरकार- आपके द्वार ” कार्यक्रम का किया शुभारंभ

राज्य में भाजपा और आजसू पार्टी की वर्तमान हालात यह हो चुकी है की हेमंत सरकार द्वारा चलाए जा रही योजनओं का विरोध तक नहीं कर पा रहे है. ऐसा कहा जाता है कि सरकार जब अपनी जनता के हितों को ध्यान में रखकर योजनाएं लाती है तो अच्छे-अच्छे विरोधी भी उनका विरोध नहीं कर पाती है. झारखंड में भी हेमंत सोरेन की सरकार कई ऐसी जनकल्याणकारी योजनओं को धरातल पर उतार रही है जिसकी कल्पना भी झारखंड की जनता ने कभी नहीं किया होगा. सर्वजन पेंशन योजना, हरा राशनकार्ड के माध्यम से अंतिम पंक्ति के लोगो तक लाभ पंहुचा कर उनके जीवन को सुरक्षित रखने का प्रयास किया जा रहा है.

Leave a Reply