Skip to content

ब्लैक फंगस से जमशेदपुर में एक की हुई मौत, विभाग हुआ अलर्ट Jamshedpur News

Arti Agarwal

Jamshedpur News: झारखंड के जमशेदपुर में कोरोना संक्रमण का खतरा अभी कम हुआ भी नहीं था कि ब्लैक फंगस नामक बीमारी ने अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. जमशेदपुर के टीएमएच अस्पताल (TMH Jamshedpur) में ब्लैक फंगस से एक मरीज की मौत हो गई है. टीएमएच अस्पताल में अब तक तीन ब्लैक फंगस से पीड़ित मरीज सामने आ चुके हैं.

Advertisement

जमशेदपुर जिले के टीएमएच अस्पताल में ब्लैक फंगस से एक व्यक्ति की मौत हो गई है. मृतक सरायकेला जिले के आदित्यपुर का रहने वाला था. टीएमएच अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के इलाज के दौरान आंख में होने वाली बीमारी ब्लैक फंगस के लिए उपयोगी दवा का अभाव है. बिष्टुपुर स्थित टीएमएच अस्पताल में ब्लैक फंगस से पीड़ित व्यक्ति इलाज के लिए भर्ती हुआ जो सरायकेला जिले के आदित्यपुर का रहने वाला था. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

Also Read: साँस लेने में परेशानी के बाद सास और बहू की मौत, 2 घंटे के भीतर हुई दोनों की मौत

बताया जा रहा है कि आदित्यपुर के रहने वाला पीड़ित व्यक्ति पहले कोरोना संक्रमित था तो उसने कांतिलाल गांधी अस्पताल में अपना इलाज कराया था. कोरोना से ठीक होने के बाद घर लौटा तो उसकी आँखों की रोशनी जाने लगी इसके बाद उसे टीएमएच अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसके इलाज के लिए जरूरी इंजेक्शन नहीं था. इस इंजेक्शन को पूरे झारखंड में खोजा गया लेकिन वह नहीं मिला.

टाटा स्टील मेडिकल सर्विसेज और टीएमएच के सलाहकार डॉ राजन चौधरी ने कहा कि ब्लैक फंगस के लिए जरूरी दवाओं का अभाव है. ब्लैक फंगस की दवा नहीं मिल रही है उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमितो के इलाज में स्ट्रायड का उपयोग किया जा रहा है. इससे किसी-किसी को ब्लैक फंगस की शिकायत हो रही है. सिविल सर्जन ने कहा कि कोल्हान में ब्लैक फंगस से एक व्यक्ति की मौत हो गई है. स्वास्थ्य विभाग इसे लेकर गंभीर है इसके साथ ही सरकार ब्लैक फंगस की जरूरी दवा और इंजेक्शन की व्यवस्था कर रही है.

Leave a Reply