Skip to content

Khatiyani Johar Yatra: सीएम हेमंत सोरेन आज शुरू करेंगे खतियानी जोहार यात्रा

Shah Ahmad

Khatiyani Johar Yatra: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में खतियानी जोहार यात्रा का आगाज गुरुवार को गढ़वा और पलामू से हो रहा है। यूपीए सरकार की योजनाओं का लाभ गांव के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने और योजनाओं की भौतिक प्रगति का आंकलन करने के लिए व्यवस्था का शीर्ष निचले पायदान तक पहुंचेगा।

मुख्यमंत्री आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम की समाप्ति के बाद अब जिला स्तर पर विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री विभिन्न जिलों का भ्रमण कर वस्तुस्थिति से अवगत होंगे और किसी भी विभाग का औचक निरीक्षण भी करेंगे। वह गरीबों में कंबल का वितरण भी करेंगे। मुख्यमंत्री ने भ्रमण के दौरान संबंधित विभाग के सचिव, उच्च अधिकारियों और जिला स्तरीय पदाधिकारियों को उपस्थित रहने का आदेश दिया है। ताकि समस्याओं का तत्काल निवारण किया जा सके।

सीएम की यात्रा का 12 दिसंबर को गुमला, 13 दिसंबर को लोहरदगा, 15 दिसंबर को गोड्डा और 16 को देवघर में होगी। सीएम एक से दूसरे जिले तक सड़क मार्ग से पहुंचेंगे। प्रारंभ और अंत में सभा को भी संबोधित करेंगे। जाहिर तौर पर इस दौरान सियासी बातें होंगी और निशाना विपक्ष पर लगेग। यूपीए नेताओं का भी संबोधन होगा। जोहार यात्रा फरवरी तक चलेगी और इस दौरान हर जिले में सीएम पहुंचेंगे।

Advertisement

Also Read: TAC Jharkhand: हेमंत सरकार की टीएसी को रद्द करना चाहते है राज्यपाल !, BJP सरकार के TAC को कोर्ट बता चुकी है सही

मुख्यमंत्री जिला भ्रमण के दौरान सरकार की फोकस्ड स्कीम जैसे सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना, मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना,पशुधन विकास योजना, सर्वजन पेंशन योजना, केसीसी, कृषि ऋण माफी योजना, मनरेगा, स्कॉलरशिप, पर्यटन, खेल व अन्य गतिविधियों की गहन जानकारी लेंगे। मुख्यमंत्री द्वारा एक करोड़ से अधिक की राशि से अधिक को स्वीकृत योजना की भी समीक्षा होगी। साथ ही, आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम की भी समीक्षा होगी।

Khatiyani Johar Yatra: अपनी योजनओं की जानकारी जनता को देंगे, विपक्ष को भी घेरेंगे

खतियानी जोहार यात्रा गठबंधन दलों के सहयोग से निकाली जा रही है। सीएम सभाओं को संबोधित करते हुए विरोधियों पर निशाना भी साधेंगे। यात्रा के दो पहलू हैं। पहला प्रशासनिक और दूसरा राजनीतिक। इसके अलावा सीएम जिलास्तरीय समीक्षा के क्रम में उत्कृष्ट विद्यालय, मॉडल स्कूल एवं अन्य सरकारी विद्यालयों, स्वास्थ्य केंद्रों, अस्पतालों, छात्रावासों, पेयजल आपूर्ति, सड़क और पुल की स्थिति, सिंचाई, पुलिस स्टेशन, आंगनबाड़ी केंद्र आदि सुविधा से जुड़े केंद्रों की समीक्षा करेंगे।

Leave a Reply