Skip to content
Advertisement

झारखंड की पहली ‘विस्टाडोम’ कोच वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का उद्घाटन, न्यू गिरीडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस सफर होगा मनमोहक

झारखंड की ‘विस्टाडोम’ कोच वाली पहली न्यू गिरीडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस का उद्घाटन आज (12 सितंबर) को होगा. अब रांचीवासी भी विस्टाडोम कोच का आनंद ले सकेंगें. यह कोच न्यू गिरीडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस में शामिल किया जाएगा. इस ट्रेन में एक विस्टाडोम कोच भी जुड़ा रहेगा.

न्यू गिरिडीह-रांची ट्रेन का उद्घाटन होते ही यात्री इस विस्टाडोम कोच का आनंद लेने लगेंगें. ट्रेन जमुआ, धनवार, महेशपुर, कोडरमा, हजारीबाग टाउन, बड़काकाना मेसरा और टाटीसिल्वे होते रांची तक का सफर करेगी.  इस कोच से आप रास्ते का मनमोहक दृश्य का मजा ले पाएंगें. इस रुट में प्राकृतिक सुदंरता काफी ज्यादा है. जिसको देखने के लिए लोग इस कोच से सफर करना पसंद कर सकते हैं. इंटरसिटी एक्सप्रेस एक निश्चित अवधि के लिए बरकाकाना-मुरी-टाटीसिलवे मार्ग से चलेगी. हालांकि, इसका निर्धारित मार्ग बरकाकाना-मेसरा-टाटीसिलवे मार्ग से होगा.

न्यू गिरीडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस उद्घाटन समारोह में केंद्रीय मंत्री और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भी हो सकते हैं शामिल

पूर्व मध्य रेलवे हाजीपुर जोन के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार, आज (12 सितंबर)  को पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत न्यू गिरिडीह स्टेशन से करीब 10:30 बजे हरी झंडी दिखाई जाएगी. गिरिडीह में उद्घाटन समारोह होगा, जिसमें केंद्रीय मंत्री अन्नपूर्णा देवी, गिरिडीह के सांसद चंद्र प्रकाश चौधरी, स्थानीय विधायक केदार हाजरा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश इकाई के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी भी शामिल हो सकते हैं.

Also Read: उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडलीय रोजगार मेला में विभिन्न संस्थानों के लिए चयनित 11,850 युवाओं  को  मिला ऑफर लेटर

बता दें, इस ट्रेन के निर्माण का उद्देश्य है कि विस्टाडोम से यात्री यात्रा करते समय इस सफर का पूरा आनंद ले सकें. रास्ते में पड़ने वाले मनोरम प्राकृतिक सौंदर्य को महसूस कर सके. ट्रेन में कुल 13 कोच होंगे. न्यू गिरिडीह-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन दूसरी रेलगाड़ी हजारीबाग टाउन से जुड़ेगी. इस कोच में 42 से 44 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई है. इस ट्रेन की सबसे बड़ी खासियत होगी इसकी शानदार सीट जो 180 डिग्री पर घूम सकेगी. शानदार पुशबैक होगी. आराम से यात्री किसी भी तरफ का नजारा देख सकेंगे. 

जानिए क्या है विस्टाडोम कोच वाली ट्रेन 

विस्टाडोम शब्द दो शब्दों से मिल के बना है विस्टा और डोम. विस्टा का अर्थ है परिदृश्य और डोम का अर्थ है गुबंद आकार. यह एक प्रकार का पर्यटक कोच है, जिसमें शीशे की खिड़कियां लगी होती हैं. जिससे आप बाहर के नजारे और उनकी खूबसूरती का आनंद लेते हुए सफर कर सकते हैं. इस तरह की ट्रेनें अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होती हैं

Advertisement
झारखंड की पहली 'विस्टाडोम' कोच वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का उद्घाटन, न्यू गिरीडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस सफर होगा मनमोहक 1