Skip to content
Advertisement

Jharkhand News: बढ़ने वाली है पूर्व CM रघुवर दास की परेशानी, ED ने मांगे हॉर्स ट्रेडिंग से जुड़े दस्तावेज

Arti Agarwal
Advertisement
Jharkhand News: बढ़ने वाली है पूर्व CM रघुवर दास की परेशानी, ED ने मांगे हॉर्स ट्रेडिंग से जुड़े दस्तावेज 1

Jharkhand News: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के तत्कालीन राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास की मुश्किलें बढ़ने वाली है. ईडी ने साल 2016 के राज्यसभा चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग से जुड़े दस्तावेज़ मांगे है.

Advertisement
Advertisement

ईडी ने झारखंड के शीर्ष पुलिस अधिकारी और रांची के एसएसपी को पत्र लिख कर राज्यसभा हॉर्स ट्रेडिंग-2016 से संबंधित सभी दस्तावेज मांगे हैं. पुलिस से मिलनेवाले दस्तावेज में वर्णित तथ्यों की कानूनी नजरिये से समीक्षा के बाद प्राथमिकी (इसीआइआर) दर्ज करने पर अंतिम निर्णय होगा.

Jharkhand News: जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी, पीसी एक्ट की धाराएं भी जोड़ी गई थी

राज्यसभा हार्स ट्रेडिंग-2016 में चुनाव आयोग के निर्देश पर जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी. आइपीएस अधिकारी अनुराग गुप्ता और तत्कालीन मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार को नामजद अभियुक्त बनाया गया था. बाद में इस मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया गया. साथ ही इसमें भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (पीसी एक्ट) की धाराएं जोड़ी गयीं. पीसी एक्ट की धाराएं जोड़े जाने के बाद इस मामले की जांच डीएसपी को सौंप दिया गया. जांच अधिकारी के स्तर से इस मामले को बंद करने की अनुशंसा की गयी थी.

हालांकि सिटी एसपी ने समीक्षा के बाद मामले को बंद करने के प्रस्ताव को ठुकरा दिया. ईडी द्वारा विचार विमर्श के बाद इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने की स्थिति में तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास, अनुराग गुप्ता और सलाहकार को अभियुक्त बनाये जाने की संभावना है.

Also Read: Anganwadi Vacancy 2022: सरकार ने बदला नियम, 12वीं पास अब बन सकेंगी आंगनबाड़ी की सेविका और सहायिका