झामुमो कोडरमा जिला समिति ने कहा, दीदी किचन योजना में एनजीओ द्वारा बरती जा रही है लापरवाही

Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on reddit

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा कोडरमा जिला प्रवक्ता ने प्रेस नोट जारी करते हुए मुख्यमंत्री दीदी किचन चलने वाले एनजीओ पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है. प्रेस नोट में कहा गया की जिला अध्यक्ष श्याम किशोर सिंह के द्वारा मुख्यमंत्री दीदी किसान योजना की देख-रेख करने के लिए पार्टी स्तरीय प्रत्येक पंचायत और नगर के क्षेत्रो में समिति का गठन किया है. प्रत्येक पंचायत में प्रवेक्षक और प्रभारी नियुक्त किये गए है. निरीक्षण के दौरान दीदी किचन योजना में काफी लापरवाही देखी गयी है.

Also Read: झारखण्ड में कोरोना से दूसरी मौत, राज्य में अब तक कुल 17 लोगो में हो चुकी है कोरोना की पुष्टि

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के द्वारा शुरू की गयी दीदी किचन योजना का निरीक्षण करने के लिए जयनगर, चंदवारा और मरकच्चो के प्रवेक्षक गए तो उन्होंने पाया की जिस एनजीओ के द्वारा दीदी किचन योजना चलाया का रहा है उनके द्वारा भरी अनियमिता बरती जा रही है. जयनगर प्रखंड के अध्यक्ष अशोक सिंह और बुद्धिजीवी मोर्चा के जिला सचिव गोविन्द बिहारी के द्वारा दीदी किचन के केन्द्रो पर कार्यरत लोगो से पूछा गया की कितने लोगो को खाना खिलाना है तो मालूम पड़ा की एनजीओ के द्वारा कार्यरत कर्मियो को निर्देश दिया गया है की सिर्फ 10- 20 लोगो को ही खाना खिलाना है.

Also Read: पीएम के साथ बैठक में बोले हेमंत सोरेन मनरेगा के तहत मजदूरी दर बढ़ाकर न्यूनतम 300 रुपये प्रतिदिन किया जाए

हेमंत सोरेन के द्वारा कोरोना महामारी में प्रत्येक पंचायत स्तर पर दीदी किचन की शुरुआत की गयी है. इस योजना का लक्ष्य गरीब और जरुरतमंद लोगो को भोजन उपलब्ध करना है. लेकिन जिला कमिटी के द्वारा ये आरोप लगाया जा रहा है एनजीओ द्वारा मनमानी की जा रही है. मुख्यमंत्री का साफ़ निर्देश की भोजन की वजह से कोई भी भूखा न सोए. जिला कमिटी ने एनजीओ को साफ़ लफ्जो में कहा की जो भी लोग भोजन करना चाहते है उन्हें भोजन कराया जाये। ताकि कोई भी भूखा नहीं रहे है.

Also Read: सीएम हेमंत सोरेन ने उपायुक्तों से कहा जन वितरण प्रणाली की दुकानों का औचक निरीक्षण करें

जिला अध्यक्ष श्याम किशोर सिंह ने पार्टी के सभी कार्यकर्ताओ को निर्देश देते हुए कहा की अपने-अपने पंचायत में दीदी किचन योजना पर ध्यान रखना है साथ ही ये सुनिश्चित करे की आपदा की घडी में जो भी भूख तथा अन्य किसी राहत सामग्री के कारण समस्या से परेशान हो उसकी मदद करे. राज्य के अंतिम व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुंचे इसका ख्याल रखे और मुख्यमंत्री जी के आदेशो का पालन करे.

Leave a Reply

In The News

आंदोलनरत सहायक पुलिसकर्मीयों की हड़ताल समाप्त, 2 साल का सेवा विस्तार का एलान

रांची के मोहराबदी मैदान में 12 सितंबर से राज्य भर के सहायक पुलिसकर्मी आंदोलन कर रहे थे. उनका कहना है…

Jharkhand News: टॉपरों से किया वादा शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने किया पूरा, उपहार में दिया अल्टो कार

हेमंत सरकार बनने के बाद डुमरी से झामुमो विधायक जगरनाथ महतो को राज्य का शिक्षा मंत्री बनाया गया है. शिक्षा…

Jharkhand: BJP विधायक पर भड़के स्पीकर रविन्द्रनाथ महतो कहा, सदन में गुंडागर्दी नहीं चलेगी

झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 18 सितंबर से शुरू होकर 22 सितंबर को खत्म हो गया. कोरोना काल के बीच…

Sarna Dharam Code: सरना धर्म कोड को मान्यता देने के लिए हेमंत सरकार सदन में आज ला सकती है प्रस्ताव

आदिवासी हिन्दू नहीं है यह बात कहते हुए आपने कई आदिवासियों को सुना होगा. अपनी अलग पहचान बताते हुए आदिवासी…

Jharkhand Monsoon Session: विधानसभा का मानसून सत्र आज हंगामेदार रहने के असार, सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र आज एक बार फिर शुरू हो रहा है. शुक्रवार को शुरू हुए मानसून सत्र में…

सरना धर्म कोड लागू करने कि फिर उठी मांग, आदिवासी संगठनों ने सड़को पर उतर बनाया मानव श्रंखला

सरना धर्म कोड लागू करने कि मांग लंबे समय से आदिवासी संगठनो द्वारा किया जा रहा है. झारखंड जैसे आदिवासी…

Get notified Subscribe To The News Khazana

Follow Us

Popular Topics

Trending

Related News

जोहार 😊

Popular Searches