Skip to content

Koderma: हमदर्द कमेटी ने जीवोदया होली फैमिली में किया कम्बल वितरण

zabazshoaib

Koderma: सर्दी की रातें गरीबों के लिए बहुत भारी पड़ती हैं। उन्हें तलाश रहती है किसी ऐसे मसीहा की जो आकर उनको ठंड से बचा सके। ठिठुरते हुए रात न गुजारनी पड़े। बहुत से गरीब इन सर्दी की रातों में गर्म कपड़े के बिना कांपते रहते हैं। हालांकि ऐसे कई लोग हैं जो गरीबों की पीड़ा को समझते हुए नेक कार्य के लिए आगे आते हैं और गर्म कपड़े, कम्बल आदि का वितरण कर लोगों को मानव सेवा के लिए प्रेरित करते हैं। ऐसे ही एक संस्था है हमदर्द कमेटी जो गरीबो के मदद के लिए सामाजिक भाईचारे को मजबूत करने के लिए हमेशा तत्पर रहती हैं। आज सर्द होती रातों में ठंड से कापंते गरीब, असहाय, लाचार लोगों को गर्माहट देने की ठोस पहल के तहत कड़ाके की ठंड में गरीब बच्चों व बुजुर्गों को गर्म कपड़ों के अभाव में न जीना पड़े इसके लिए आज कार्तिक पूर्णिमा गुरुनानक जयंती के दिन हमदर्द कमेटी के संस्थापक सह कांग्रेस नेता सईद नसीम और उनकी समाजसेवी पत्नी नाजिया खातून के नेतृत्व में कमेटी के सदस्यों ने जीवोदया होली फैमिली में गरीब असहाय व मानसिक रोगियों बुजुर्गों और गरीब बच्चों के बीच गर्म कम्बल और खाद्य सामग्री बांटे।

Advertisement

संस्था की ओर मंगलवार को जीवोदया के अंदर रह रहे 75 लोगों में गर्म कम्बल और खाद्य पदार्थों वितरित किए गए। ठंड की शुरुआत में कंबल पाकर गरीब बच्चे व असहाय लोगो के चेहरे खिल उठे। मौके पर कमेटी के संस्थापक सईद नसीम ने कहा कि गरीबों के लिए सर्दी का मौसम काफी कष्टप्रद रहता है।गरीब की सहायता करना सबसे बड़ा धर्म व पुण्य का काम है। साथ ही उनकी पत्नी नाजिया खातून ने आमजनों से अपील है की जो लोग जिन गर्म वस्त्रों को वह अपने प्रयोग में नहीं ला रहे हैं ऐसी वस्त्रों को अपने आस-पास के गरीब लोगों को देकर सहयोग करें ताकि वे भी ठंड से अपनी बचाव कर सकें। गरीब की सहायता करना सबसे बड़ा पुण्य का काम है। उन्होंने कहा कि हम लोग अपने पूर्वजों से गरीब, असहाय लोगों की सहायता करना सीखे हैं। हमेशा यही प्रयास रहता है कि गरीब लोग दरवाजे से खाली हाथ न लौटे।

Also read: Koderma: 12 नवम्बर को लगाई जाएगी राष्टीय लोक अदालत, लम्बित मामलों का राजीनामे से होगा निपटारा

मौके पर जीवोदया संस्था के सिस्टर फील बी, इंचार्ज सिस्टर रानिटा, सिस्टर माला, व कमेटी के सम्मानित सदस्य संतोष सिंह, रशीद महबूब, मुन्ना यादव , समीर अहमद, मोहमद फ़ैयाज़ , वाजिद अली, शुभान अली, राजू कुरेशी, गुड़िया कुमारी, फ़ैज़ा सईद, अज़हर मसूद , माया सिंह, नदीम खान, मोहमद, मुमताज़ मोहमद नियाज़, राजेश तुरी, रवि गुप्ता, मोहम्मद एहसान शामिल होकर सहयोग दिया।

Leave a Reply