Skip to content
tiddi_Jharkhand

झारखंड पहुँच सकता है टिड्डी, स्थिति से निपटने के लिए अलर्ट हुआ प्रशासन

tnkstaff

कोरोना महामारी से एक तरफ जहाँ पूरा देश ग्रसित है वही दूसरी तरफ एक नया खतरा टिड्डी मंडरा रहा है. प्रभात खबर में छपी एक खबर के अनुसार झारखण्ड के गढ़वा जिला में टिड्डी प्रवेश कर सकता है. इसे लेकर प्रशासन अलर्ट पर है.

Advertisement

अनुमण्डल क्षेत्र में टिड्डी दल पहुंचने से पहले अनुमंडल पदाधिकारी कमलेश्वर नारायण ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को फसलों की सुरक्षा के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया है.

Also Read: झारखंड पहला राज्य है जिसने एयरलिफ्ट करके मजदूरों को उनके घर सकुशल पहुंचाया

अनुमंडल पदाधिकारी कमलेश्वर नारायण ने टिड्डी दल के हमले की आशंका को देखते हुए सभी को सतर्क रहने को कहा है. उन्होंने कहा है कि अनुमंडल क्षेत्र में टिड्डी दल कभी भी प्रवेश कर सकता है. ऐसे में फसलों की सुरक्षा को लेकर एहतियात बरतने की जरूरत है. उन्होंने फसलों को टिड्डी के प्रभाव से बचाने के लिए स्प्रे और कीटनाशक दवाओं का पर्याप्त मात्रा में छिड़काव कराने का निर्देश दिया है

Also Read: अलग-अलग तीन मामलो में CM हेमंत सोरेन ने दिए भ्रष्टाचार के खिलाफ जाँच के आदेश, एक्शन में है CM

किसानों को भी अपनी फसल के बचाव को लेकर जागरूक करने का कार्य शुरू कर दिया गया है. एसडीओ कमलेश्वर नारायण ने कहा कि टिड्डी द्वारा पौधों के हरे हिस्से व उसमें लगे फल, सब्जी व अन्य भाग को खाकर फसल को बर्बाद कर दिया जाता है. इससे किसानों की फसलों को काफी क्षति होने की आशंका है.

एसडीओ ने किसानों से एक साथ इकट्ठा होकर टीन के डिब्बे या थाली बजाने, मिट्टी वाले क्षेत्रों में खेतों में जलभराव अथवा धुंआ करने, मैलाथियान, फिप्रोनिल, इमिडा क्लोरपीड, क्यूनालफास या क्लोरपाइरीफास में से किसी एक दवा का विशेषज्ञों से जानकारी लेकर छिड़काव कराने की अपील की है.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches